विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ दी है. 15 जनवरी को कोहली ने सोशल मीडिया के जरिए इस बात की जानकारी देकर सनसनी मचा दी. कोहली के इस फैसले के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने उनकी प्रशंसा करते हुए इस खिलाड़ी को सबसे सफल कप्तान बताया है. विराट कोहली टी20-विश्व कप-2021 की शुरुआत से पहले इस फॉर्मेट की कमान छोड़ने का ऐलान कर चुके थे, जिसके कुछ दिनों बाद बोर्ड ने उनसे वनडे टीम की कप्तानी छीन ली थी.

विराट कोहली ने लिखा इमोशनल नोट

विराट कोहली ने भावुक संदेश में लिखा, “हर चीज को एक चरण पर रुकना पड़ता है और भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान के तौर पर अब यह मेरे लिए है. मैं जो कुछ भी करता हूं, हमेशा उसमें 120 प्रतिशत देने में विश्वास करता हूं और अगर मैं ऐसा नहीं कर सकता हूं तो मैं जानता हूं कि यह सही नहीं है. मेरे दिल में पूरी तरह स्पष्टता है और मैं अपनी टीम को धोखे में नहीं रख सकता.”

बीसीसीआई ने विराट कोहली को सराहा

बोर्ड ने विराट कोहली के नोट को री-ट्वीट करते हुए लिखा, “बीसीसीआई भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को उनके प्रशंसनीय नेतृत्व गुणों के लिए बधाई देता है, जो टेस्ट टीम को अभूतपूर्व ऊंचाइयों पर ले गए. कोहली ने 68 मैचों में भारत का नेतृत्व किया और 40 जीत के साथ सबसे सफल कप्तान रहे हैं.”

…जब विराट कोहली और बीसीसीई के बीच ठनी

विराट कोहली को हटाकर बीसीसीआई ने रोहित शर्मा को वनडे टीम का कप्तान नियुक्त कर दिया था. विराट कोहली और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के बीच विवाद उस वक्त गर्मा गया था, जब विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका रवानगी से पहले प्रेस कांफ्रेंस में बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली के बयान का खंडन करते हुए कहा था कि उनसे टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने के फैसले पर पुनर्विचार के लिये नहीं कहा गया था.