BCCI में नेशनल क्रिकेट अकादमी (NCA) चीफ की जिम्मेदारी संभाल रहे पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) अब टीम इंडिया के हेज कोच बन गए हैं. इसके बाद एनसीए का चीफ पद खाली पड़ा है. कयास लगाए जा रहे हैं कि इस पद पर पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) काबिज होंगे. हालांकि इसके लिए बीसीसीआई सचिव जय शाह (Jay Shah) ने कहा कि एनसीए का हेड बनने के लिए उन्हें आवेदन करना होगा.

शनिवार को कोलकाता में बीसीसीआई एसजीएम की मीटिंग आयोजित हुई थी. यह बोर्ड की 90वीं वार्षिक आम बैठक थी. इस बैठक के बाद जय शाह (Jay Shah) ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हम एनसीए की नियुक्ति के लिए विज्ञापन देंगे. पहले उन्हें (VVS) इस पद के लिए आवेदन करना होगा.’

राहुल द्रविड़ के इस्तीफा देने के बाद वीवीएस लक्ष्मण ने आईपीएल फ्रैंचाइजी सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के संरक्षक के रूप में अपनी भूमिका से इस्तीफा दे दिया है. हालांकि वीवीएस पहले हैदराबाद छोड़कर बेंगलुरु जाने को तैयार नहीं थे. लेकिन बाद में उन्हें मना लिया गया. अब एनसीए चीफ बनने के लिए उन्हें इस प्रक्रिया से गुजरना होगा. राहुल द्रविड़ भी भारतीय टीम का कोच बनने से पहले इस तय चयन प्रक्रिया से ही गुजरे हैं.

एनसीए चीफ बनने से पहले वीवीएस को हितों के टकराव से बचने के लिए अखबारों में कॉलम लिखना और कॉमेंट्री करना बंद करना होगा. लक्ष्मण की नियुक्ति एजीएम में चर्चा के बिंदुओं में से एक थी. अगले साल होने वाली आईपीएल 2022 की बड़ी नीलामी (खिलाड़ियों के लिए) के मुद्दे पर शाह ने कहा, ‘आईपीएल संचालन समिति इस पर फैसला करेगी.’ बीसीसीआई ने सीवीसी कैपिटल की जांच के लिए एक तटस्थ पैनल का भी गठन किया है, जिसने अहमदाबाद फ्रैंचाइजी के लिए अदानी समूह को पीछे छोड़ दिया था.

कंपनी ने नीलामी में 5625 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. यह कंपनी हालांकि भारत के बाहर कुछ सट्टेबाजी कंपनियों के साथ कथित संबंधों को लेकर सुर्खियों में है. शाह ने कहा, ‘हमने एक समिति बनाई है जो इस मामले की जांच कर रही है.’

(इनपुट: भाषा)