ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच 8 दिसंबर से एशेज सीरीज (The Ashes)की शुरुआत होने जा रही है, जिसके लिए ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) को नहीं चुना गया है. मैक्सवेल ने साल 2013 में पहला टेस्ट मैच खेला था, जिसके बाद से उन्होंने अब तक महज 7 टेस्ट ही खेले हैं. इस फॉर्मेट में उनका प्रदर्शन कुछ खासा नहीं रहा है, लेकिन मैक्सवेल को फिर से टेस्ट क्रिकेट खेलने की उम्मीद है.

इस ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने बताया कि ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में वापसी को लेकर वह लगातार चयनकर्ताओं के संपर्क में हैं. मैक्सवेल ने 2017 के बांग्लादेश दौरे के बाद से ऑस्ट्रेलिया के लिए एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला है.

क्रिकेट डॉटकॉमडॉटएयू ने शुक्रवार को मैक्सवेल के हवाले से कहा “मैं अपने खेल के बारे में अच्छा महसूस करता हूं. मैं चयनकर्ताओं के साथ लगातार संपर्क में हूं और अगर मुझे टेस्ट में खेलने का अवसर मिलता हैं तो मैं लाल गेंद से खेलने के लिए तैयार हूं.”

मैक्सवेल ने सात टेस्ट मैचों में 26.07 की औसत से 339 रन बनाए हैं, जिसमें रांची में भारत के खिलाफ शतक भी लगाया था. उनका आखिरी मैच अक्टूबर 2019 में पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ था. मैक्सवेल बिग बैश लीग (बीबीएल) के आगामी सत्र में मेलबर्न स्टार्स की कप्तानी करते नजर आएंगे.