IND vs NZ 1st T20I: न्‍यूजीलैंड के खिलाफ मैच के दौरान रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने दो विकेट निकाले. उनके शानदार प्रदर्शन के दम पर मेहमान टीम बहुत बड़ा लक्ष्‍य सेट कर पाने में विफल रही. मैच के बाद अश्विन ने राहुल द्रविड़ के नेतृत्‍व को लेकर सवाल पर कहा कि वो ज्‍यादा चीजें भाग्‍य पर नहीं छोड़ते हैं.

न्‍यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज से राहुल द्रविड़ भारतीय टीम के मुख्‍य कोच के रूप में अपनी पारी की शुरुआत कर रहे हैं. इसी तरह रोहित शर्मा के लिए भी रेगुलर टी20 कप्‍तान के रूप में ये पहली सीरीज है. रविचंद्रन अश्विन ने कहा, ‘‘राहुल द्रविड़ की कोचिंग शैली पर टिप्पणी करना अभी मेरे लिए जल्दबाजी होगी लेकिन उन्होंने अंडर-19 स्तर से ही मापदंड स्थापित किए हैं.’’

IND vs NZ 1st T20I: उन्होंने कहा, ‘‘वह काफी चीजें भाग्य के सहारे नहीं छोड़ेंगे और वह तैयारी तथा प्रक्रिया में विश्वास रखते हैं जिससे कि हम भारतीय ड्रेसिंग रूम में खुशियों की वापसी कर पाएं.’’

भारतीय टीम में नया नेतृत्व समूह बना है. द्रविड़ ने शास्त्री की जगह ली है तो टी20 में विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा टीम की कमान संभाल रहे हैं.

पहले टी20 के संदर्भ में अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने कहा कि उन्होंने महसूस किया कि गेंद की गति धीमी करने से काफी फायदा हो रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘आप जितनी धीमी गेंद फेंकोगे, पिच से उतनी ही मदद मिल रही थी. अगर आप सीम के साथ गेंद को हवा में अधिक देर रखोगे तो मदद मिल सकती है जैसा (मिशेल) सेंटनर ने दूसरी पारी में दिखाया.’’

भारत को 165 रन का लक्ष्य मिला था और अश्विन (Ravichandran Ashwin) का मानना है कि उनकी टीम को मैच को अंतिम ओवर तक नहीं ले जाना चाहिए था. उन्होंने कहा, ‘‘प्रतिस्पर्धी स्कोर से कम रन थे और हमने सोचा था कि 170 से 180 रन प्रतिस्पर्धी स्कोर होगा. हमने सोचा था कि हम 15वें ओवर के आसपास जीत दर्ज कर लेंगे लेकिन टी20 क्रिकेट में ऐसा होता है.’’