India vs New Zealand Test, 1st Match: भारत-न्यूजीलैंड के बीच कानपुर में पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा है, जिसमें भारत ने पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया. टीम इंडिया ने रोहित शर्मा की कप्तानी में मेहमान टीम के खिलाफ टी20 सीरीज में क्लीन स्वीप किया. अब फैंस को उम्मीद है कि अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में भारत पहला टेस्ट अपने नाम कर सीरीज में लीड बना ले. विराट कोहली (Virat Kohli) दूसरे टेस्ट मुकाबले के लिए टीम से जुड़ेंगे. भारत-न्यूजीलैंड की टीमें सफेद कपड़ों में आखिरी बार विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में उतरी थी, जहां उसे हार का सामना करना पड़ा. अब टीम इंडिया हिसाब बराबर करने को बेताब है.

पहले दिन के पहले सेशन पिच ने कोई खास संकेत नहीं दिए, लेकिन दूसरा दिन काफी अलग हो सका है. ग्रीन पार्क स्टेडियम के स्थानीय क्यूरेटर शिव कुमार का कहना है कि इस मैदान की पिच पर घास नहीं है लेकिन इसके टूटने (ज्यादा दरार पड़ने) की संभावना काफी कम है. पहले कई बार टीम प्रबंधन ने कुछ विशिष्ट प्रकार की पिच तैयार करने के निर्देश दिए हैं, लेकिन शिव कुमार ने बताया कि इस बार ना तो कोच राहुल द्रविड़ और ना ही कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कोई विशेष मांग की.

पिछले दो दशक से इस मैदान में काम रहे कुमार ने कहा, ‘‘हमें बीसीसीआई से कोई निर्देश नहीं मिला है, न ही टीम प्रबंधन से किसी ने मुझसे संपर्क करके पूरी तरह से स्पिनरों की मददगार पिच बनाने की बात कही. मैंने अच्छी पिच को ध्यान में रखते हुए एक पिच तैयार की है. यह नवंबर का महीना है और दुनिया के इस हिस्से में इस समय पिच में थोड़ी नमी होगी. मैं आपको इस बात के लिए आश्वस्त कर सकता हूं कि यह पिच जल्दी टूटेगी नहीं.’’

बता दें कि पिछले कुछ समय से ज्यादातर विदेशी टीमें स्पिनरों के अनुकूल पिचों में तीन दिनों में ही घुटने टेक दे रही हैं. हालांकि कानपुर में 2016 में खेला गया भारत और न्यूजीलैंड का टेस्ट मैच पांचवें दिन तक चला था. इस मैदान पर भारत का रिकॉर्ड शानदार रहा है. दोनों टीमों के बीच अब तक 60 टेस्ट मैच खेले गए हैं, जिसमें भारत ने 21 टेस्ट जीते हैं, जबकि न्यूजीलैंड को 13 मैचों में जीत नसीब हुई है. 26 मुकाबले ड्रॉ रहे.