India vs New Zealand, 2nd Test: भारत-न्यूजीलैंड के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडिय में दूसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है, जिसमें भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया. भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पहला मुकाबला नहीं खेले थे, जिसके बाद उन्होंने मुंबई टेस्ट में वापसी की, लेकिन खाता भी नहीं खोल सके. विराट कोहली न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट की पहली पारी में भारतीय कप्तान विराट कोहली ‘शून्य’ पर आउट हो गए.

कोहली को जिस तरह आउट दिया गया उससे बड़ा विवाद खड़ा हो गया. भारत की पारी के 29.6 ओवर में एजाज पटेल की गेंद पर कोहली ने आगे बढ़कर डिफेंस की कोशिश की. गेंद कोहली के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर पैड से टकरा गई.

अंपायर अनिल चौधरी ने उन्हें पगबाधा आउट दिया, जिस पर कोहली ने DRS की मांग की, लेकिन टीवी अंपायर वीरेंदर शर्मा (Virender Sharma) ने कई फ्रेम देखने के बावजूद उन्हें आउट कर दिया. विराट कोहली टीवी अंपायर के इस फैसले से खासा नाराज दिखे. उन्होंने लेग अंपायर नितिन मेनन से बात भी की. जब वह पवेलियन की ओर लौटे, तो गुस्से में बाउंड्री रोप पर अपना बल्ला दे मारा, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ.

महान स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) का भी मानना है कि विराट कोहली के साथ नाइंसाफी हुई. शोन वॉर्न के मुताबिक विराट कोहली आउट नहीं थे. वॉर्न ने ट्वीट किया, ‘‘वह बिल्कुल आउट नहीं थे. हम अक्सर तकनीक और उसके सटीक इस्तेमाल की बात करते हैं. समस्या तकनीक को समझने में है. यहां गेंद बल्ले को टकराकर गई थी.’’