कानपुर टेस्‍ट (Kanpur Test) के तीसरे दिन भारतीय टीम के बल्‍लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने 65 रन की पारी खेल टीम को मुश्किल से बाहर निकाला. अय्यर ने पहली पारी के दौरान भी डेब्‍यू मैच में शतक जड़ा था. अय्यर ने दूसरे दिन का खेल खत्‍म होने के बाद बताया कि राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने मुश्किल वक्‍त में उन्‍हें विशेष संदेश के साथ दूसरी पारी में बल्‍लेबाजी करने के लिए भेजा था. अय्यर ने भी कोच की बात का 100 प्रतिशत पालन किया. यही वजह है कि टीम ने एक बड़े लक्ष्‍य के साथ न्‍यूजीलैंड को मैदान में उतारा है.

श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने बताया, “मैं पहले भी ऐसी स्थिति में खेल चुका हूं, भारतीय टीम के लिए नहीं बल्कि अपनी रणजी टीम के लिए. एक अच्छे सत्र में अधिक से अधिक गेंदें खेलनी थी. मैं बहुत आगे की नहीं सोच रहा था, मैं बस वर्तमान की स्थिति को देखते हुए यह कर रहा था.”

26 साल के खिलाड़ी ने खुलासा किया कि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने उन्हें दूसरी पारी में ज्यादा देर तक बल्लेबाजी करने के लिए कहा था. उन्होंने आगे बताया, “राहुल सर ने मुझे अधिक से अधिक गेंदों को खेलने के लिए कहा था और मैंने ऐसा ही करने का सोचा था. मुझे लगता है कि हमें 250 रनों से अधिक की अच्छी बढ़त मिल गई, जिससे मैं खुश हूं.”

अय्यर (Shreyas Iyer) ने यह कामयाबी हासिल करने पर खुशी जताते हुए कहा, “मेरा ध्यान अभी भी भारत के पहले टेस्ट जीतने पर है और ऐसा करने के लिए अभी भी हमें नौ विकेट लेने हैं, जबकि न्यूजीलैंड को पांचवें दिन 280 रन की जरूरत है.” उन्होंने कहा कि भारतीय टीम में स्पिनरों की तिकड़ी सोमवार को उन्हें जीत दिला सकती है.