भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishan Sharma) इन दिनों खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. इंग्‍लैंड दौरे पर विफल रहे इशांत कानपुर टेंस्‍ट में भी एक भी विकेट नहीं ले पाए. यही वजह है कि अब उन्‍हें प्‍लेइंग इलेवन से बाहर किए जाने की बात कही जा रही है. मुंबई टेस्‍ट से एक दिन पहले इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज स्टीव हार्मिसन (Steve Harmison) ने इशांत शर्मा को टीम से बाहर करने की वकालत की. उनका मानना है कि केवल शर्मा जी ही नहीं बल्कि अब वक्‍त आ गया है कि अजिंक्‍य रहाणे और चेतेश्‍वर पुजारा को भी बाहर का रास्‍ता दिखा दिया जाए.

हार्मिसन (Steve Harmison) ने टॉकस्पोर्ट को बताया “मुझे समझ में नहीं आता कि इशांत शर्मा ने इंग्लैंड में जो किया, उसके बाद टेस्ट क्रिकेट के दूसरे मैच में उन्हें जगह कैसे मिल गई.”

भारत के सबसे अनुभवी टेस्ट गेंदबाज इशांत (Ishan Sharma) ने अब तक तीन पारियों में एक भी विकेट नहीं लिया है और इस साल की शुरुआत में चोटिल होने के बाद टीम में वापसी के बाद से वह फॉर्म में नहीं हैं.

हार्मिसन ने कहा कि भारत चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को बाहर करके बल्लेबाजी क्रम में भी बदलाव कर सकता है. उन्होंने कहा कि पुजारा (Cheteshwar Pujara) और रहाणे दोनों ही फॉर्म में नहीं थे. इसके बदले में उन्होंने सूर्यकुमार यादव को टीम में शामिल करने का सुझाव दिया, क्योंकि वह मुंबई की पिच से अच्छी तरह वाकिफ हैं.

हार्मिसन ने कहा कि पुजारा का फॉर्म एक बड़ी चिंता है क्योंकि बल्लेबाज ने अपनी 39 पारियों में शतक नहीं बनाया. “पुजारा, विशेष रूप से, बिना शतक के 39 पारियां खेल चुके हैं और लंबे समय से वह टीम के शीर्ष छह में बल्लेबाजी करने के लिए मैदान में उतरते रहे हैं.”