India vs South Africa, 3rd Test: भारत ने केप टाउन में जारी तीसरे टेस्ट मैच में मेजबान साउथ अफ्रीका को जीत के लिए 212 रन का टारगेट दिया है. सीरीज के अंतिम मुकाबले के तीसरे दिन टीम इंडिया दूसरी पारी में महज 198 रन पर सिमट गई. भले ही विकेटकीपर-बल्लेबाज रिषभ पंत (Rishabh Pant) ने शतकीय पारी खेली, लेकिन भारतीय टीम मिलकर दोहरा शतक नहीं जड़ सकी. इसी के साथ भारत के नाम शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गया है.

भारत के सभी खिलाड़ी कैच आउट

भारत की दोनों पारियों में सभी बल्लेबाज कैच आउट हुए. क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ, जब मुकाबले की दोनों पारियों में किसी टीम के बल्लेबाज कैच आउट होकर पवेलियन लौटे. इससे पहले पांच मौकों पर टीम के 19 बल्लेबाज कैच आउट हुए थे, लेकिन इस मैच में भारत के सभी 20 बैट्समैन ठीक इसी तरह अपना विकेट गंवा बैठे.

इन 5 मौकों पर कैच आउट के रूप में टीम गंवा चुकी 19 विकेट:

इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया, ब्रिस्बेन 1982/83

पाकिस्तान बनाम ऑस्ट्रेलिया, सिडनी 2009/10

भारत बनाम साउथ अफ्रीका, डरबन 2010/11

इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया, ब्रिस्बेन 2013/14

साउथ अफ्रीका बनाम इंग्लैंड, केप टाउन 2019/20

पहली पारी में शतक से चूके विराट कोहली

टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए भारत ने पहली पारी में 223 रन बनाए. विराट कोहली ने कप्तानी पारी खेलते हुए सर्वाधिक 79 रन टीम के खाते में जोड़े. इसके जवाब में साउथ अफ्रीकी टीम महज 210 रन पर सिमट गई. यहां से भारत ने पहली पारी के आधार पर 13 रन की लीड हासिल कर ली. मेहमान टीम की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने 5 विकेट चटकाए, जबकि उमेश यादव और मोहम्मद शमी को 2-2 सफलता हाथ लगी.

दूसरी इनिंग में रिषभ पंत ने जड़ा नाबाद शतक, साउथ अफ्रीका को आसान टारगेट

दूसरी पारी में भारत की शुरुआत खराब रही. टीम ने 58 के स्कोर तक अपने 4 विकेट गंवा दिए थे. यहां से कप्तान विराट कोहली ने रिषभ पंत के साथ पांचवें विकेट के लिए 94 रन की साझेदारी की, लेकिन कोहली के आउट होते ही फिर से विकेटों का पतझड़ लग गया. रिषभ पंत के नाबाद शतक के अलावा कोहली ने 29 रन बनाए, जबकि केएल राहुल ने 10 रन का योगदान दिया. इनके अलावा कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू सका. मेजबान टीम की ओर से मार्को जेनसन ने 4, जबकि कगिसो रबाडा और लुंगी नगिडी ने 3-3 विकेट झटके.