भारत की रिकॉर्ड रन मशीन विराट कोहली (Virat Kohli) ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे पहले वनडे मैच में एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली. पहले वनडे में जब वह बल्लेबाजी के लिए उतरे तो उन्होंने 51 रन बनाकर इस पारी का अंत किया. इसी के साथ उन्होंने वनडे फॉर्मेट में भारत की ओर से विदेशों में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. विराट से पहले यहां दुनिया के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के नाम था. मास्टर ब्लास्टर के नाम विदेशों में 5065 वनडे रन थे, जबकि विराट कोहली के नाम अब 5108* रन हो गए हैं.

पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने तीन चौकों की मदद से 63 गेंद में 51 रन बनाए. विराट के निशाने पर अब श्रीलंका के दिग्गज बल्लेबाज कुमार संगाकारा हैं, जिनके नाम इस फॉर्मेट में विदेशी पिचों पर सर्वाधिक रन हैं संगाकारा के नाम 5518 रन हैं और वह विदेशी सरजमीं पर वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में शीर्ष पर हैं.

बुधवार को अपनी इस पारी के दौरान जब कोहली 27 रन पर पहुंचे, तब उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में भी पीछे छोड़ दिया. कोहली के इस मैच से पहले 1287 रन थे.

कोहली इस मामले में अब सिर्फ तेंदुलकर से पीछे हैं, जिन्होंने वनडे में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2,001 रन बनाए हैं. तेंदुलकर सभी देशों के खिलाड़ियों में साउथ अफ्रीका के खिलाफ सबसे ज्यादा रन जोड़ने के मामले में शीर्ष पर हैं.

साउथ अफ्रीका के खिलाफ सबसे ज्यादा रन जुटाने वाले खिलाड़ियों की सूची में कोहली छठे नंबर पर हैं. वह तेंदुलकर के अलावा रिकी पोंटिंग (1879), कुमार संगकारा (1789), स्टीव वॉ (1581) और शिवनारायण चंद्रपॉल (1559) से पीछे हैं. पिछले हफ्ते कोहली ने भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़कर क्रिकेट जगत को हैरान कर दिया था.

(इनपुट: भाषा)