भारत और इंग्लैंड (India vs England Test Series) के बीच लीड्स में खेले जा रहे टेस्ट मैच में टीम इंडिया शानदार वापसी करते हुए दिख रही है. पहली पारी में सिर्फ 78 रन पर ऑलआउट होने वाली टीम इंडिया पहली पारी के आधार पर 354 रन पीछे थी. अब भारत अपनी दूसरी पारी में शानदार वापसी करता हुआ दिख रहा है. भारतीय टीम की वापसी देख पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक (Inzamam Ul Haq) को लगता है कि टीम इंडिया यहां 2001 के ऐतिहासिक कोलकाता टेस्ट जैसी वापसी कर सकती है.

तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया ने 2 विकेट गंवाकर 215 रन बना लिए हैं. स्टंप्स के समय (Virat Kohli) विराट कोहली (45*) और (Cheteshwar Pujara) चेतेश्वर पुजारा (91*) सुरक्षित पवेलियन लौटे हैं.

इंजमाम ने लीड्स टेस्ट में भारत और इंग्लैंड के खेल की समीक्षा करते हुए कहा कि भारतीय टीम यहां पूरी तरह बैकफुट पर थी. ठीक ऐसे ही टीम 20 साल पहले जब कोलकाता के ऐतिहासिक मैदान ईडन गार्डेन्स के मैदान पर बुरी तरह पिछड़ी हुई थी. तब वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) और राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने पूरा दिन बल्लेबाजी कर इतिहास रच दिया था. उन्होंने पहले फॉलोऑन खेलते हुए ऑस्ट्रेलिया की लीड उतारी और फिर भारत की झोली में इतना स्कोर डाल दिया, जिससे कंगारू टीम को हार का मुंह देखना पड़ा.

अपने यूट्यूब चैनल द मैच विनर पर इस टेस्ट को याद करते हुए, ‘मुझे याद है भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वह टेस्ट मैच. वहां वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने 281 और राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने 180 रन बनाए थे. भारत अब भी कुछ ऐसा ही कर सकती है. जिस तरह से वह खेल रहे हैं, पूरे दिन में सिर्फ 2 विकेट गिरे हैं, दबाव में यह कमाल का प्रदर्शन है.’

इसके बाद इंजी ने कहा, ‘हालांकि ये चीजें कभी-कभार ही होती हैं लेकिन मैं समझता हूं कि इस बार ऐसा देखने को मिल सकता है.’ उन्होंने कहा कि भारतीय बल्लेबाजी में अनुभव है और अभी तक उन्होंने इसका प्रदर्शन भी किया है. हालांकि उन्होंने सेट होने के बाद आउट होने वाले रोहित शर्मा से थोड़ी मायूसी भी दिखाई. इंजमाम ने कहा कि उन्होंने सारा मुश्किल समय निकाल लिया था और अब जरूरत उनके टिकने की थी. लेकिन वह तब आउट हो गए.

लेकिन उन्होंने कहा कि वह इस स्टार बल्लेबाज के प्रदर्शन से काफी प्रभावित हैं. इस सीरीज से पहले उनके खेल के बारे में काफी बातें हो रही थीं कि यहां गेंद स्विंग और सीम होगा. उनके लिए इन परिस्थितियों में बतौर ओपनर खुद को साबित करना मुश्किल होगा. लेकिन अभी तक खेली 5 पारियों में वह बेहतरीन दिखाई दिए हैं.