पाकिस्‍तान के खिलाफ 10 विकेट से मिली करारी हार के बाद बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय टीम में मौजूद कमी को उजागर किया। दादा का मानना है कि उनके समय में टीम के बिना ही वो और वीरेंद्र सहवाग आगे आकर समस्‍या का समाधान कर देते थे। गांगुली ने भारतीय टीम द्वारा कम रन बनाए जाने का मुद्दा भी उठाया।

सौरव गांगुली ने कहा, “पाकिस्‍तान से हार को कुछ ज्‍यादा ही बढ़ा चढ़ा कर पेश किया जा रहा है. मेरे लिए इन चीजों का ज्‍यादा महत्‍व नहीं है. खेल के दौरान ऐसा होता है. आप हारते हैं तो हर कोई हार जाता है. मैं उम्‍मीद करता हूं कि भारत कमबैक करेंगा और नॉकआउट राउंड में प्रवेश करेंगा. ”

दादा ने कहा, “हमने ज्‍यादा रन नहीं बनाए. भारत ने एक समस्‍या का सामना किया वो है कि हमारे पास बैकअप के रूप में छठा गेंदबाज नहीं है. हार्दिक पांड्या गेंदबाजी नहीं कर सकते थे. ऐसे में अगर किसी रेगुलर गेंदबाज का बुरा दिन है तो कुछ विकल्‍प थे जो आगे आकर एक या दो ओवर गेंदबाजी कर सकते थे. जबतक 11 में फैरबदल ना हो जाए.”

सौरव गांगुली ने कहा, “टीम के बिना मैने गेंदबाजी की थी. सहवाग ने गेंदबाजी की थी. यही एक छोटी सी समस्‍या इस टीम के साथ है. मैं उम्‍मीद करता हूं कि वो इस समस्‍या को समझेंगे और वापसी करेंगे. ये एक अच्‍छी टीम है. पिछले दो सालों में इस टीम ने अच्‍छा क्रिकेट खेला है.”

मैच में भारत की टीम ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए विराट कोहली के अर्धशतक की मदद से 151 रन बनाए. जवाब में बाबर आजम और मोहम्‍मद रिजवान के अर्धशतकों की मदद से पाकिस्‍तन ने मुकाबले को आसानी से जीत लिया.