भारतीय स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने अपनी बेहतरीन तेज गेंदबाजी के दम पर साउथ अफ्रीका की पहली पारी को 210 रन पर समेट दिया. बुमराह ने 42 रन देकर 5 विकेट अपने नाम किए. दिन का खेल खत्म होने तक भारत मेजबान टीम से 70 रन आगे है. हालांकि भारतीय टीम ने 2 विकेट गंवा दिए हैं लेकिन फिर भी वह मजबूत स्थिति में दिख रहा है. दूसरे दिन स्टंप की घोषणा होने तक कप्तान (Cheteshwar Pujara) चेतेश्वर पुजारा (9*) और (Virat Kohli) विराट कोहली (14*) नाबाद पवेलियन लौटे.

बुमराह ने 23.3 ओवर में 42 रन देकर 5 विकेट लिए और एक पारी में पांच विकेट लेने का कारनामा उन्होंने 7वीं बार किया है. मोहम्मद शमी और उमेश यादव ने भी 2-2 विकेट लिए. भारत ने पहली पारी में 223 रन बनाए थे जिससे उसे 13 रन की बढ़त मिल गई. दूसरी पारी में मयंक अग्रवाल (7) और केएल राहुल (10) सस्ते में आउट हो गए. भारत ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 57 रन बना लिए थे.

पिछले मैच में शॉर्ट पिच गेंदें डालने के लिए आलोचना झेलने वाले बुमराह ने अपने प्रदर्शन से आलोचकों को जवाब दिया. उन्होंने अपनी लैंग्थ में मामूली बदलाव करके आफ स्टम्प पर फुल लैंग्थ गेंदें डाली जिसका उन्हें फायदा भी मिला.

ऐसी ही एक गेंद पर उन्होंने साउथ अफ्रीका के लिए सर्वाधिक 72 रन बनाने वाले कीगन पीटरसन को दूसरी स्लिप में चेतेश्वर पुजारा के हाथों लपकवाया. कोहली ने दूसरे दिन गेंदबाजी में सटीक बदलाव किए और स्लिप में दो कैच लपकने के साथ ही टेस्ट क्रिकेट में 100 कैच पूरे कर लिए. उमेश यादव की गेंद पर उन्होंने दूसरी स्लिप में रासी वान डेर डुसेन का कैच लपका.

वैसे भारत को मैच में लौटाने का श्रेय मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) को जाता है. शमी ने 56वें ओवर में टेम्बा बावुमा (28) और काइल वेरेन्ने (0) को आउट करके मेजबान टीम को लगातार दो झटके दिए. बावुमा का कैच कोहली ने लपका जबकि वेरेन्ने ने ऋषभ पंत को कैच थमाया. बुमराह ने चाय से ठीक पहले मार्को जेनसन को बोल्ड किया.

पीटरसन को दो बार जीवनदान मिला, जब शार्दुल ठाकुर की गेंद पर पहली स्लिप में कोहली ने उनका कैच छोड़ा चूंकि गेंद उनके सामने आकर गिरी थी. इसके बाद कोहली ने दूसरी स्लिप में पहली स्लिप से कुछ कदम आगे आकर खड़े होने का फैसला किया क्योंकि गेंद सामने टप्पा खा रही थी.