आईपीएल (IPL 2021) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम अपने पहले खिताब के लिए शानदार ढंग से आगे बढ़ती दिख रही है. टीम प्लेऑफ की दौड़ में अब तक खेले 10 मैचों में 12 अंकों के साथ तीसरे पायदान पर है और अगर वह ऐसा ही शादनार खेल जारी रखती है तो निश्चित ही प्लेऑफ में अपना स्थान पक्का कर लेगी. इस बीच यह साफ है कि टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) आखिरी बार इस फ्रैंचाइजी की कमान संभाल रहे हैं. अगले सीजन टीम को नए कप्तान मिलना तय है.

इस बीच क्रिकेट जगत में अभी से इसकी सुगबुगाहट शुरू हो गई है कि आखिर टीम का नया कप्तान कौन हो सकता है. वैसे मौजूदा सीजन में विराट के बाद टीम के पास कप्तानी के लिए कुछ ज्यादा विकल्प नजह नहीं आते हैं. आरसीबी में विराट के अलावा फिलहाल बड़े नामों की चर्चा करें तो उसकी टीम में एबी डिविलियर्स (AB De Villiers) और ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) शामिल हैं. हालांकि कई जानकार मानते हैं डिविलियर्स 37 साल के हो चुके हैं ऐसे में वह टीम की कमान संभालने के लिए उपयुक्त नाम नहीं हैं क्योंकि उनका क्रिकेट करियर शायद 3 साल से ज्यादा का नहीं बचा है.

दूसरी ओर ग्लेन मैक्सवेल के पास कप्तानी का कोई अनुभव नहीं है और ऐसे में आरसीबी उन्हें यह जिम्मेदारी सौंप कर कोई नया एक्सपेरिमेंट करना नहीं चाहेगी. ऐसे में साउथ अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज डेल स्टेन (Dale Steyn) की मानें तो रॉयल चैलेंजर्स की टीम अपने पूर्व खिलाड़ी केएल राहुल (KL Rahul) को टीम में वापस लाकर उन्हें कप्तान बना सकती है.

हालांकि केएल राहुल बीते कुछ सीजन से पंजाब के खेमे में हैं और वह पिछले दो सीजन से इसकी कप्तानी कर रहे हैं. स्टेन ने कहा, ‘अगर आरसीबी किसी ऐसे खिलाड़ी को कप्तान बनाने के लिए देख रही है, जो लंबे समय तक यह जिम्मेदारी निभा सके, तो उन्हें अपनी सीमाओं से बाहर देखना होगा. मेरे जेहन में जो नाम है वह बैंगलोर के पूर्व खिलाड़ी हैं. यह केएल राहुल (KL Rahul) हैं. मुझे ऐसा लग रहा है कि वह अगली नीलामी में बैंगलोर में वापस होंगे.’

डिविलियर्स को कप्तान बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) के साथ बढ़ना सही तरीका होगा. मैं मानता हूं कि वह उम्दा खिलाड़ी हैं. लेकिन वह अपने करियर के अंत की ओर हैं. मैं यह जरूर मानता हूं कि वह एक शानदार नेतृत्वकर्ता हैं लेकिन आरसीबी किसी ऐसे शख्स को यहां देख रही होगी, जो लंबे समय तक यह भूमिका निभा सके.’