Indian Premier League 2021, Chennai Super Kings vs Kolkata Knight Riders, Final: कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने क्वालीफायर-2 में दिल्ली कैपिटल्स (DC) को 3 विकेट से मात देकर फाइनल में जगह बना ली है, जहां 15 अक्टूबर को खिताबी मुकाबले में उसका सामना चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) से होगा. केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) ने फाइनल में पहुंचने के बाद युवाओं को खुलकर सामने आने देने और टीम के आईपीएल 2021 में शानदार बदलाव का श्रेय बैकरूम स्टाफ को दिया है.

केकेआर ने इस सीजन की शुरुआत सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत के साथ की थी, लेकिन उसे भारत में हुए पहले चरण में संघर्ष करना पड़ा और वह पांच हार तथा दो जीत के साथ सातवें नंबर पर थी. यहां से दूसरे चरण में कोलकाता ने शानदार तरीके से वापसी की और नेट रेट के आधार पर प्लेऑफ में जगह बनाई. इसके बाद केकेआर ने एलिमिनेटर मैच में आरसीबी को 4 विकेट से हराया, जबकि क्वालीफायर-2 में इस टीम ने दिल्ली को 3 विकेट से शिकस्त देकर फाइनल में प्रवेश किया.

खिताबी मुकाबले में पहुंचने के बाद मोर्गन ने कहा, “हमारी टीम का वातावरण अच्छा है जहां युवा खिलाड़ी स्वतंत्र होकर खुद को साबित करते हैं. बैकरूम स्टाफ ने ऐसा माहौल बनाया, जिससे ये ऐसा कर सके. इस टीम से अपेक्षा है और उम्मीद करते हैं हम वैसा कर सकेंगे जैसी हमने रणनीति बनाई है.”

उन्होंने कहा कि वेंकटेश अय्यर को दूसरे चरण में ओपनिंग बल्लेबाज के तौर पर खेलाने का फैसला टीम मैनजमेंट विशेष रूप से कोच ब्रेंडन मैकुलम का था. मोर्गन ने कहा, “अय्यर को एकादश में लाने का फैसला कोच का था. वह एक शानदार खिलाड़ी हैं. लक्ष्य को आसानी से हासिल करते हैं.” मोर्गन का मानना है कि जिस तरह ओपनरों ने शुरुआत की थी, उसे देखते हुए टीम को अच्छी तरह से मुकाबले को जीतना चाहिए था.