ऑस्ट्रेलिया और दिल्ली कैपिटल्स (DC) के धाकड़ ओपनर डेविड वॉर्नर (David Warner) अपनी फील्डिंग को लेकर भी उत्साहित हैं. वॉर्नर ने कहा क्रिकेट में उनके लिए दो ही पहलू हैं पहला बल्लेबाजी और दूसरा फील्डिंग वह बैटिंग के साथ-साथ इस क्षेत्र में अपनी छाप छोड़ना चाहते हैं. सोमवार को वॉर्नर मैच की पहली ही गेंद पर लियाम लिविंगस्टोन का शिकार हो गए लेकिन इस मैच में उन्होंने अपनी फील्डिंग से सुर्खियां बटोरीं.

इस ऑस्ट्रेलियाई स्टार से जब उनके शानदार क्षेत्ररक्षण के बारे में पूछा गया, उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए क्रिकेट के दो पहलू हैं- बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण. मैं अंदरुनी सर्किल में एक-एक रन रोकना चाहता हूं और बाउंड्री पर कुछ कैच लपकना चाहता हूं. सौभाग्य से मैं एक कैच लेने में सफल रहा और यह हमारे लिए शानदार रहा. मुझे फील्डिंग में जहां भी लगाया जाता है, मैं रन बचाने की कोशिश करता हूं.’

दिल्ली की टीम पंजाब पर 17 रन की जीत से आईपीएल अंकतालिका में शीर्ष चार में शामिल हो गई है. अपनी टीम के प्रदर्शन के बारे में वॉर्नर ने कहा, ‘टीम का रवैया कभी हार नहीं मानने वाला है. हमारी टीम जुझारू है और हम अपनी क्षमताओं के अनुसार सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हैं, चाहे वह गेंदबाजी में हो या फिर बल्लेबाजी. हमारे अंदर एक-दूसरे की मदद करने की भूख और इच्छा है क्योंकि हम एक-दूसरे की परवाह करते हैं.’

सरफराज खान ने सलामी बल्लेबाज की भूमिका का आनंद उठाते हुए 16 गेंदों पर 32 रन की तूफानी पारी खेली. उन्होंने कहा, ‘मैंने पंजाब किंग्स के खिलाफ मैच से पहले कभी पारी की शुरुआत नहीं की थी, इसलिए मैं इसका लुत्फ उठाना चाहता था. ये मौका मिलने से पहले मुझे लगता था कि मैं सलामी बल्लेबाज के रूप में अच्छी बल्लेबाजी कर सकता हूं और पंजाब के खिलाफ सब कुछ रणनीति के अनुसार हुआ.’

इस बल्लेबाज ने अपनी पारी के बाद भी टीम को प्रेरित किया. उन्होंने कहा, ‘यदि मेरी पारी से टीम को जीत नहीं मिलती है, तो मुझे खुशी नहीं होती है. टीम के अंदर माहौल अच्छा है और हमें प्लेऑफ के लिए क्वॉलीफाई करने के लिये एक और मैच में अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है.’

(इनपुट: भाषा)