आईपीएल के 31वें मुकाबले में लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने 18 रन से हरा दिया. बैटिंग के लिए मुश्किल दिख रही इस पिच पर RCB ने पहले बैटिंग करते हुए अपने कप्तान फाफ डुप्लेसी (Faf du Plessis) के तूफानी 96 रनों की बदौलत 181 रन रन का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य सेट किया. इसके जवाब में लखनऊ की टीम सिर्फ 163 रन ही बना पाई. मैच के बाद सुपर जायंट्स के कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) ने कहा कि हमने बैटिंग में नहीं बल्कि बॉलिंग में गलती की क्योंकि टीम ने 15 से 20 रन अधिक लुटा दिए.

मैच की शुरुआत में लखनऊ बैगंलौर पर पूरी तरह हावी था उसने पहले ही ओवर में 2 विकेट झटककर RCB को बैकफुट पर धकेल दिया था. इसके बाद 62 के कुल स्कोर तक उसने 2 और झटके दे दिए. लेकिन टीम फाफ डुप्लेसिस को अंतिम ओवर से पहले आउट नहीं कर पाई और उन्होंने RCB को 181 के एक मजबूत टोटल तक पहुंचा दिया.

इसके जवाब में लखनऊ की टीम (Josh Hazlewood) जोश हेजलवुड (4/25) की धारदार गेंदबाजी के सामने 8 विकेट पर 163 रन ही बना सकी. हर्षल पटेल ने 47 रन देकर दो, जबकि ग्लेन मैक्सवेल ने 11 रन देकर एक विकेट चटकाया. शाहबाज अहमद ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में सिर्फ 25 रन दिए। लखनऊ की ओर से क्रुणाल पंड्या ने सर्वाधिक 42 रन बनाए.

कप्तान राहुल ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे लगता है कि पहले ओवर में दो विकेट के साथ हमने अच्छी शुरुआत की लेकिन फिर पावर प्ले में 50 रन (47 रन) बनाने दिए, हमें इससे बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए था. मुझे लगता है कि इस पिच पर 180 रन (181 रन) देकर हमने उन्हें 15 या 20 रन अतिरिक्त दे दिए.’

उन्होंने कहा, ‘पिच बल्लेबाजी के लिए आसान नहीं थी. हमें शुरुआती विकेट मिले जिसकी हमें तलाश थी लेकिन बीच के ओवरों में हम दबाव नहीं बना पाए.’ राहुल ने कहा कि उन्हें लक्ष्य का पीछा करते हुए बड़ी साझेदारी की जरूरत थी.

इस युवा कप्तान ने कहा, ‘हमें एक बड़ी साझेदारी की जरूरत थी- हमने देखा कि फाफ ने आरसीबी के लिए क्या किया. मुझे लगता है कि हमें शीर्ष तीन या चार बललेबाज में से एक से बड़ी पारी की जरूरत थी.’