आईपीएल (IPL 2022) का आगाज चेन्‍नई पर कोलकाता की जीत के साथ हो गया है. भारत की जूनियर टीम ने बीते महीने ही अंडर-19 विश्‍व कप (ICC U19 World Cup 2022) पर कब्‍जा किया है. ऐसे में कप्‍तान यश धुल (Yash Dhull) से लेकर राज बावा (Raj Bawa) और राजवर्धन हंगरगेकर (Rajvardhan Hangargekar) पर आईपीएल के दौरान खूब धनवर्षा हुई. पूर्व क्रिकेटर मदन लाल (Madan Lal) को उम्‍मीद है कि ये खिलाड़ी आईपीएल के दौरान भी खूब धमाल मचाएंगे. हालांकि उन्‍होंने यह भी साफ कर दिया कि युवाओं को आईपीएल के साथ-साथ घरेलू क्रिकेट पर भी फोकस करना होगा.

भारत के अंडर-19 ऑलराउंडर हैंगरगेकर ने 30 लाख रुपये के आधार मूल्य पर नीलामी में प्रवेश किया. जैसे ही मुंबई इंडियंस ने हार्दिक पांड्या की टीम को भरने के लिए अपना दांव लगाया, लखनऊ सुपर जायंट्स और चेन्नई सुपर किंग्स ने भी बोली में कूद गई. आखिरकार, चार बार की विजेता सीएसके ने इस युवा खिलाड़ी को 1.5 करोड़ रुपये में अपना बना लिया.

ऑलराउंडर राज बावा (जिसका बेस प्राइस 20 लाख रुपये था) को पंजाब किंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के साथ बोली मुकाबले के बाद 2 करोड़ रुपये में खरीदा था. इस बीच, टीम के कप्तान ढुल को उनकी घरेलू फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स ने 50 लाख रुपये में चुना था. इन खिलाड़ियों को अपनी पहली आईपीएल नीलामी में शानदार रकम हासिल करने के बाद, 1983 विश्व कप के नायक मदन लाल ने कहा कि वह उनके लिए खुश हैं.

मदन लाल ने आगे कहा, “रणजी में घरेलू क्रिकेट और देश के लिए खेलना हमेशा से उनके लिए प्राथमिकता होनी चाहिए. मुझे खुशी है कि इन युवा क्रिकेटरों को आईपीएल में चुना गया, लेकिन नीलामी सूची में बीसीसीआई उनके नाम जोड़ने से पहले कुछ और साल इंतजार कर सकता था.”

मदन लाल ने आईएएनएस को बताया, “कई क्रिकेटर हैं जो पूरे समर्पण के साथ आईपीएल में खेल रहे हैं, लेकिन जब रणजी की बात आती है, तो या तो वे अनुपलब्ध हैं या वही उत्साह गायब है. इसलिए आईपीएल में खेलने वाले सभी युवा क्रिकेटरों को मेरी सलाह कभी नहीं भूलना चाहिए.”

पूर्व ऑलराउंडर ने वर्षों से आईपीएल को सफलतापूर्वक आयोजित करने के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड को भी बधाई दी. उन्होंने कहा, “इसलिए, आईपीएल सीखने और प्रगति करने का एक मंच है.”