अपने पहले खिताब की खोज जुटी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने लगता है अब अपनी कमर कस ली है. बुधवार को उसने जिस अंदाज लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) को एलिमिनेटर मुकाबले से बाहर किया उसके बाद उसके इरादे काफी बुलंद नजर आने लगे हैं. अब शुक्रवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में उसका सामना एक बार की चैंपियन राजस्थान रॉयल्स (RR) से होगा. इस आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की टीम एक शानदार टीम रही, जिसने लीग स्टेज में टॉप 2 में अपनी जगह पक्की की है. हालांकि, क्वॉलीफायर 1 में गुजरात के खिलाफ रॉयल्स का प्रदर्शन शानदार नहीं रहा, खासकर इसलिए कि उनके गेंदबाज दबाव की स्थिति में प्रदर्शन करने में नाकाम रहे. अब उनका सामना आरसीबी से है, जो अब इस टूर्नामेंट में अपना सब कुछ झोंकने को तैयार है.

क्वॉलीफायर 2 का विजेता नरेंद्र मोदी स्टेडियम स्टेडियम में शत प्रतिशत दर्शकों के सामने आईपीएल 2022 के फाइनल में गुजरात टाइटंस से भिड़ेगा. प्लेऑफ के लिए क्वॉलीफाई करने के लिए बैंगलोर को अच्छी किस्मत की जरूरत थी. हालांकि, एक बार जब क्वॉलीफाई कर गए, तो आरसीबी ने एलिमिनेटर में लखनऊ के खिलाफ दमखम दिखाया और अपने प्रशंसकों को आईपीएल ट्रॉफी जीतने की उम्मीद दी.

आरसीबी के बल्लेबाज विराट कोहली, फाफ डु प्लेसिस और ग्लेन मैक्सवेल पिछले मैच में ज्यादा योगदान नहीं दे सके और राजस्थान के खिलाफ प्रभावशाली पारियां खेलने को लेकर उत्साहित होंगे.

दूसरी ओर, रजत पाटीदार ने एलएसजी के खिलाफ मैच जिताऊ पारी खेली थी, आत्मविश्वास से भरपूर होंगे और इस तरह की पारी को दोहराने के लिए उत्साहित होंगे. नीचे के क्रम में दिनेश कार्तिक ने हिटर की अपनी भूमिका पूरी तरह से निभाई है और टीम प्रबंधन भी आगामी मैच में उसी निरंतरता की उम्मीद कर रहा होगा.

गेंदबाजी विभाग में हर्षल पटेल और जोश हेजलवुड ने ज्यादातर मौकों पर आरसीबी के लिए शानदार काम किया है और मोहम्मद सिराज की एलएसजी मैच में अच्छी गेंदबाजी ने इसे और भी प्रभावी गेंदबाजी लाइनअप बना दिया है. दूसरी ओर, वानिंदु हसरंगा ने भी बेहतरीन गेंदबाजी की है.

दूसरी ओर, राजस्थान का बल्लेबाजी क्रम जोस बटलर और कप्तान संजू सैमसन पर बहुत अधिक निर्भर है, जिन्होंने अपने पिछले मैच में गुजरात के खिलाफ भी रन बनाए थे. सैमसन ने नंबर 3 और नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए शुरुआत की है, लेकिन वह अपने 30 और 40 की पारी को आरसीबी के खिलाफ मैच जिताने वाली पारी में बदलने के लिए उत्सुक होंगे. दूसरी ओर, बटलर अपने अनुभव का इस्तेमाल मैच जिताने के लिए करेंगे.

राजस्थान टीम प्रबंधन भी देवदत्त पडिक्कल, यशस्वी जायसवाल, शिमरोन हेटमायर और रियान पराग से बल्लेबाजी में योगदान चाहता है, जो रन बनाने के दौरान संघर्ष करते नजर आए हैं. राजस्थान के गेंदबाजी लाइनअप में रविचंद्रन अश्विन, ट्रेंट बोल्ट, युजवेंद्र चहल, ओबेद मैकॉय, प्रसिद्ध कृष्णा गुजरात के खिलाफ उतने घातक साबित नहीं हुए थे और यह देखना दिलचस्प होगा कि वे आरसीबी के खिलाफ कैसे वापसी करेंगे.