Indian Premier League 2022, Royal Challengers Bangalore vs Chennai Super Kings: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने चेन्नई सुपर किंग्स (RCB vs CSK) को सीजन के 49वें मैच में 13 रन से शिकस्त दी. सीजन के शुरुआती मुकाबलों में कप्तान रहे रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) ने इस मुकाबले में सभी को निराश किया. जड्डू ने 4 ओवरों में कोई भी सफलता हासिल नहीं की. इसके बाद वह बल्लेबाजी में भी फ्लॉप नजर आए, जिन्होंने 5 बॉल में महज 3 रन बनाए.

हालांकि चेन्नई सुपर किंग्स के हेड कोच स्टीफन फ्लेमिंग (Stephen Fleming) आईपीएल 2022 में ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के खराब फॉर्म से चिंतित नहीं हैं. फ्लेमिंग ने कहा, “मैं जडेजा के फॉर्म से चिंतित नहीं हूं, क्योंकि टी20 एक कठिन मैच होता है और इसलिए जब आप पांच या छह नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे होते हैं, तो आपको गति या लय में आने का समय नहीं मिलता है.”

यह चेन्नई के लिए खराब सीजन रहा है, जिसने दस मैचों में से सिर्फ तीन में जीत हासिल की हैं और लगभग प्लेऑफ से बाहर है. कोच फ्लेमिंग ने कहा, “मुझे लगता है कि हम सभी विभागों में अच्छा काम करने में विफल रहे हैं. इस प्रतियोगिता में हमने कई मौके गंवाए है, जो चिंता का विषय है. वहीं, हम कई मैचों में जीत के करीब पहुंचे हैं और लेकिन हम बेहतर करने में नाकाम रहे हैं. यही आईपीएल की कहानी रही है.”

स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि तेज गेंदबाज मुकेश चौधरी धीरे-धीरे अच्छा कर रहे हैं, लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि दीपक चाहर और एडम मिल्ने द्वारा तेज गेंदबाजी विभाग में अनुभव के जाने से चेन्नई को सीजन में आवश्यक संतुलन नहीं मिला है.

उन्होंने कहा, “हमें टूर्नामेंट में बस थोड़ा सा अनुभव चाहिए था, हमने बीच में मिल्ने को भी खो दिया और हमारे पास कुछ ऐसे खिलाड़ी थे, जो चोटिल हो गए थे. इसलिए, हमें शायद युवा खिलाड़ियों की जरूरत पड़ी. वहीं, मुकेश चौधरी ने अच्छी गेंदबाजी की, सिमरजीत को यहां मौका मिल रहा है, लेकिन हम अपने संतुलन में हैं और इस तरह की कड़ी प्रतिस्पर्धा में यही अंतर हो सकता है.”

स्टीफन फ्लेमिंग ने यह भी कहा कि गत चैंपियन के लिए अच्छा प्रदर्शन करने के लिए परिस्थितियां तैयार की गई थीं, लेकिन वे इसका फायदा नहीं उठा सके और फिर से मैच हार गए. उन्होंने कहा, “हमारे पास कुछ अच्छे स्पिन विकल्प हैं और हम जानते थे कि टूर्नामेंट के पहले हमें अच्छी गेंदबाजी के साथ रहना है और हम स्पिन आक्रमण के साथ बहुत अच्छा कर सकते हैं. आज का दिन निराशाजनक था, मुझे लगा कि परिस्थितियां हमारे पक्ष में हैं, लेकिन फिर से हम मैच हार गए.”