आईपीएल का मौजूदा सीजन खत्‍म होने के बाद से ही यह कयास लगाए जा रहे थे कि केएल राहुल (KL Rahul) आगे पंजाब किंग्‍स (Punjab Kings) के साथ खेलते हुए नजर नहीं आएंगे. अंत तक भी इस तरह की खबरें आई कि राहुल को मनाने की कोशिश की जा रही है. अब इस मामले में फेंचाइजी के मुख्‍य कोच अनिल कुंबले (KL Rahul) की तरफ से सफाई दी गई है. कुंबले का कहना है कि यह राहुल का फैसला था.

स्‍टार स्‍पोर्ट्स से बातचीत के दौरान अनिल कुंबले ने कहा, “हमने केएल राहुल (KL Rahul) को मनाने की पूरी कोशिश की. सभी चाहते थे कि वो पंजाब किंग्‍स के साथ बने रहें लेकिन वो तैयार नहीं हुए. वो अगले सीजन के लिए होने वाली नीलामी की प्रक्रिया का हिस्‍सा बनने के लिए अड़े रहे.”

बता दें कि केएल राहुल (KL Rahul) से पहले रविचंद्रन अश्विन इस फ्रेंचाइजी के कप्‍तान थे. अश्विन के दिल्‍ली कैपिटल्‍स का हिस्‍सा बनने के बाद राहुल को टीम में बड़ी जिम्‍मेदारी दी गई. वो लीडरशिप की भूमिका को बखूबी निभाते हुए भी नजर आए. हालांकि ये विकेटकीपर बल्‍लेबाज टीम को खिताब नहीं दिला पाया.

एक बल्‍लेबाज के तौर पर केएल राहुल (KL Rahul) का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा. उन्‍होंने आईपीएल में कुल 94 मैच खेले हैं. इस दौरान उनके बल्‍ले से 3,237 रन निकले. उन्‍होंने दो शतक और 37 अर्धशतक भी जड़े. बीते सीजन हमने देखा कि कई मौकों पर राहुल अपने दम पर टीम को जीत के काफी करीब लेकर पहुंचे लेकिन मध्‍यक्रम की विफलता के कारण जीती हुई बाजी भी ये टीम बेवजह हार गई.

केएल राहुल (KL Rahul) के पीछे हटने के बाद पंजाब किंग्‍स ने आगामी सीजन के लिए दो क्रिकेटर्स को रिटेन किया है. मंयक अग्रवाल को 14 करोड़ रुपये में रिटेन किया गया. इसके अलावा अनकैप्‍ड अर्शदीप सिंह को इस फ्रेंचाइजी ने चार करोड़ रुपये में जोड़ा