मिताली राज (Mithali Raj) न्यूजीलैंड में महिला विश्व कप-2022 के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने जा रही हैं. फैंस जानना चाहते हैं कि आखिर मिताली राज का स्थान कौन सी खिलाड़ी ले सकती है? पूर्व कप्तान शांता रंगास्वामी (Shantha Rangaswamy) ने भारतीय टीम की अगुआई के लिए स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) आदर्श विकल्प बताया है.

भले ही हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) 2016 के बाद टी20 कप्तान रहीं हैं, लेकिन बल्लेबाज के तौर पर अनिरंतर प्रदर्शन के चलते शांता रंगास्वामी उन्हें लंबे प्रारूप में मिताली राज के स्थान पर पहला ऑप्शन नहीं मानती हैं.

साल 1976 में भारतीय महिला टीम को अपनी कप्तानी में पहला टेस्ट मैच जिताने वाली शांता रंगास्वामी ने कहा, ‘‘मिताली के संन्यास लेने के बाद स्मृति आदर्श विकल्प होगी. वह भारत के लिये शानदार प्रदर्शन करने वाली खिलाड़ी रही है और उसे देश का नेतृत्व करने का मौका दिया जाना चाहिए.’’

हरमनप्रीत पिछले 12 महीनों से फॉर्म और फिटनेस से जूझ रही हैं. उन्होंने भी बिग बैश लीग में अच्छा किया था. बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) की शीर्ष परिषद की सदस्य शांता रंगास्वामी को लगता है कि कप्तानी ने हरमनप्रीत की बल्लेबाजी को प्रभावित किया है. पूर्व कप्तान का मानना है कि भारत की सफलता के लिये इस खिलाड़ी की बल्लेबाजी काफी अहम है.

वहीं स्टार बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने चार टेस्ट, 62 वनडे और 84 टी20 मैच खेले हैं. वह पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया की महिला बिग बैश लीग में खेली थीं जिसमें उन्होंने मेलबर्न रेनेगेड्स के खिलाफ एक शतक भी जड़ा था.

भारत का अगला दौरा विश्व कप से पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ उसकी सरजमीं का होगा. भारत 2017 विश्व कप में उप विजेता रहा था. महिलाओं का चैलेंजर टूर्नामेंट गुरूवार को समाप्त हो रहा है. शांता ने कहा कि इस टूर्नामेंट ने दिखा दिया कि देश में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘‘इस टूर्नामेंट से काफी प्रतिभायें दिखाई दीं, जो महिलाओं के क्रिकेट के लिये अच्छा है. इससे यह भी दिखता है कि हम महिलाओं की आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के लिए तैयार हैं. ’’