साउथ अफ्रीका के कप्‍तान टेम्‍बा बावुमा (Temba Bavuma) ने टीम की वेस्‍टइंडीज के खिलाफ मैच में जीत के बाद क्विंटन डी कॉक (Quinton de Kock) को लेकर खुलकर अपनी बात कही.  डी कॉक ने अश्‍वेत लोगों पर हो रहे नस्‍लीय हमलों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान का हिस्‍सा बनने से इनकार कर दिया था. इस अभियान के तहत दोनों टीमों के बीच मैच से पहले साउथ अफ्रीका की टीम को एक पैर घुटने के बल रखना था.

क्विंटन डी कॉक ने ऐसा करने से इनकार कर दिया जिसके बाद आज के मैच से उन्‍हें बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया. कप्‍तान टेम्‍बा बावुमा (Temba Bavuma) से इस बाबत सवाल किए गए. उन्‍होंने जवाब देते हुए कहा, “क्विंटन डी कॉक एक बड़ा खिलाड़ी है. हम उनके निर्णय का सम्‍मान करते हैं. हम उनकी विचारधारा का भी सम्‍मान करते है.”

उन्‍होंने कहा, “क्विंटन डी कॉक (Quinton de Kock) के इस निर्णय के बाद पूरी टीम हैरान थी. हमने उनसे बात भी की. वो ना सिर्फ एक अच्‍छे बल्‍लेबाज है बल्कि एक सीनियर खिलाड़ी होने के नाते उनकी टीम में काफी अहम भूमिका है. कप्‍तान के तौर पर ये एक ऐसी चीज है जो मैं कभी नहीं देखना चाहता था. डी कॉक एक व्‍यस्‍क है. उनके पास अपने निर्णय लेने का हक है. मुझे पता है कि जो निर्णय उन्‍होंने लिया है वो उसके साथ रहेंगे.”

बता दें कि साउथ अफ्रीका और वेस्‍टइंडीज के बीच मैच से करीब पांच घंटे पहले क्रिकेट साउथ अफ्रीका की तरफ से ये निर्देश आया था कि सभी खिलाड़ी ब्‍लैक लाइफ मैटर अभियान के तहत मैच से पहले एक घुटने के बाल बैठेंगे. डी कॉक इससे पहले विंडीज दौरे के दौरान ही कह चुके थे कि वो इस अभियान का समर्थन नहीं करते हैं.