ICC T20 World Cup 2021: टी20 विश्व कप में भारतीय टीम को पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का साथ मिलने जा रहा है. टी20 फॉर्मेट के महाकुंभ में एमएस धोनी टीम इंडिया के ‘मेंटर’ की भूमिका में नजर आएंगे, जिससे कप्तान विराट कोहली काफी (Virat Kohli) खुश हैं. कोहली का मानना है कि धोनी की उपस्थिति से मनोबल बढ़ेगा. माहीर 17 साल मैदान में अपना लोहा मनवाने के बाद अब नई भूमिका में दिखने जा रहे हैं.

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 15 अक्टूबर को चेन्नई सुपर किंग्स ने चौथा आईपीएल खिताब अपने नाम किया है. धोनी अपने नेतृत्व में भारत को साल 2007 में टी20 खिताब, जबकि साल 2011 में वनडे विश्व कप जिता चुके हैं. भारतीय टीम के मेंटोर के तौर पर धोनी का काम अपने अनुभव और समझ को साझा करने का होगा.

भारतीय क्रिकेट में ‘मेंटर’ शब्द के व्यापक मायने हैं जो एक रणनीतिकार, प्रेरणास्रोत या सलाहकार (साउंडिंग बोर्ड) हो सकता है. धोनी के मामले में वह सलाहकार हो सकते हैं क्योंकि बड़े टूर्नामेंट नहीं जीतने के बावजूद यह भारतीय टीम लंबे समय से ‘आटो पायलट मोड’ में है. धोनी को जानने वालों को पता है कि वह जरूरत पड़ने पर ही बोलेंगे और शास्त्री या कोहली के काम में कभी दखल नहीं देंगे.

बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी टी20 विश्व कप 2021 के दौरान मेंटर के रूप में अपनी भूमिका के लिए कोई फीस नहीं लेंगे. बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा है कि बोर्ड धोनी का आभारी है, क्योंकि महान क्रिकेटर इस दौरान टीम की सेवा करने के लिए सहमत हुए. जय शाह ने यह साफ कर दिया है कि एमएस धोनी विश्व कप के दौरान भारतीय टीम के मेंटर के रूप में अपनी भूमिका के लिए एक पैसा भी नहीं लेंगे.