Cricket News Today, 6 May 2020: कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते भले ही फिलहाल क्रिकेट बंद हो, लेकिन बल्‍लेबाज अजिंक्‍य रहाणे (Ajinkya Rahane) का मानना है कि जब क्रिकेट फिर शुरू होगा तो मैदान पर खेल की छोटी-छोटी परंपराएं बदल जाएंगी। रहाणे का माना है कि आने वाले समय में विकेट मिलने का जश्न मनाने के लिये खिलाड़ियों को नमस्ते का इस्तेमाल करना होगा।

भारतीय टेस्‍ट टीम के उपकप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने कहा क्रिकेट भी कोविड-19 (Covid-19) के साइड इफेक्‍ट से अछूता नहीं रहेगा। ‘‘मैदान में खिलाड़ियों को और ज्यादा अनुशासित रहना होगा। सामाजिक दूरी का ध्यान रखना होगा। विकेट गिरने के बाद हमें जश्न के लिए शायद नमस्ते का सहारा लेना पड़े। हम किसी भी चीज को हल्‍के में नहीं ले सकते।’’

‘‘विकेट गिरने पर हमें पुराने तरीके से जश्न मनाना होगा जहां हम अपनी जगह खड़े रह कर ताली बजाते हुए खुशी का इजहार करेगे। शायद हम नमस्ते या शायद सिर्फ ‘हाई फाइव’ करें।’’

….मैच से पहले अभ्‍यास मिलना जरूरी

रहाणे का मानना है कि मैदान में उतरने से पहले कम से कम तीन से चार सप्ताह के कड़े अभ्यास की जरूरत होगी। देश के लिए 65 टेस्ट, 90 वनडे और 20 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलने वाले इस खिलाड़ी कहा, ‘‘मुझे लगता है किसी भी मैच (घरेलू या अंतरराष्ट्रीय) को खेलने से पहले किसी भी क्रिकेटर को मैदान और नेट पर तीन-चार सप्ताह या एक महीना चाहिए होग का अभ्यास चाहिए होगा।’’

‘‘मैं अभी घर पर अभ्यास कर अपनी फिटनेस पर ध्यान दे रहा हूं। मैं फिटनेस के लिए कसरत, योग-ध्यान और कराटे का सहारा ले रहा हूं। मुझे ट्रेनर से इससे संबंध में कार्यक्रम मिला है। मैं इसी के मुताबिक काम कर रहा हूं। मुझे अपनी बल्लेबाजी की कमी महसूस हो रही लेकिन जाहिर है क्रिकेट तभी शुरू होना चाहिए जब चीजें नियंत्रित हो।’

…गेंद पर लार का इस्‍तेमाल

गेंद पर लार और पसीने के इस्तेमाल को रोकने की अटकलों के बारे में पूछे जाने पर अजिक्‍य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने कहा, ‘‘ मुझे नहीं पता कि इस मामले पर आईसीसी और दूसरे क्रिकेट बोर्ड क्या फैसला लेंगे। व्यक्तिगत तौर पर मैं इस कोविड-19 के दौर को खत्म होना का इंतजार करूंगा। जब क्रिकेट शुरू होगा तब हम सबको पता चल जाएगा क्या नियम होगा.’’