विराट कोहली (Virat Kohli) टी20 विश्‍व कप 2021 के बाद खेल के सबसे छोटे प्रारूप से कप्‍तानी छोड़ देंगे. ऐसे में वक्‍त आ गया है जब उनके बतौर कप्‍तान टी20 करियर का आंकलन किया जाए. विराट सेना  देशों (साउथ अफ्रीका, इंग्‍लैंड, न्‍यूजीलैंड, ऑस्‍ट्रेलिया) में टी20 सीरीज जीतने वाले भारत के इकलौते कप्‍तान हैं. उन्‍होंने बतौर कप्‍तान जीत के मामले में महेंद्र सिंह धोनी को भी पीछे छोड़ दिया है.

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्‍तानी में भारत ने 72 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय में से 41 मुकाबलों में जीत दर्ज की थी. वो 57 प्रतिशत मैच जीतने में सफल रहे. इस मामले में विराट कोहली ने तीन प्रतिशत अधिक यानी 60 प्रतिशत मैच भारत के लिए जीते हैं. विराट कोहली साल 2017 में भारत की टी20 टीम के कप्‍तान बने थे. उन्‍होंने इसके बाद से कुल 45 टी20 मुकाबलों में भारत का नेतृत्‍व किया, जिसमें से 27 मैचों में उन्‍होंने जीत दर्ज की.

सेना देशों की बात की जाए तो 2018 में विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्‍तानी में भारत ने में भारत ने पहली श्रृंखला दक्षिण अफ्रीका में 2018 में 2-1 से जीती. इसी साल भारत ने इंग्लैंड की मजबूत टीम को उसी की सरजमीं पर 2-1 से हराया.

भारत ने विदेशी सरजमीं पर सबसे बड़ी जीत 2019-20 में दर्ज की जब कोहली (Virat Kohli) की टीम ने न्यूजीलैंड को उसी की सरजमीं पर पांच टी20 मैचों की श्रृंखला में 5-0 से हराकर सूपड़ा साफ किया. भारत हालांकि इसके बाद एक दिवसीय श्रृंखला में हार गया.

भारत ने 2020 में ऑस्ट्रेलिया में एक दिवसीय श्रृंखला गंवाने के बाद टी20 श्रृंखला में वापसी करते हुए 2-1 से जीत दर्ज की. हाल में भारत ने इंग्लैंड को स्वदेश में 3-2 से हराया और कोहली को उस श्रृंखला का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया. कोहली टी20 प्रारूप में 52.65 की औसत से 3159 रन के साथ सबसे सफल बल्लेबाज हैं और उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 94 रन है.