टेस्ट फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने की घोषणा के साथ विराट कोहली (Virat Kohli) ने सभी को चौंका दिया है. टी20 कप्तानी त्यागने के बाद विराट कोहली से वनडे टीम की कमान छीन ली गई थी. ऐसे में अब कोहली किसी भी फॉर्मेट के कप्तान नहीं हैं. विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने 68 में से 40 टेस्ट मैच अपने नाम किए हैं. कोहली विश्व के तीसरे सबसे सफल टेस्ट कप्तान रहे हैं, जिनकी कप्तानी में खुद उनके बचपन के दोस्त इशांत शर्मा (Ishant Sharma) खेल चुके हैं.

इशांत शर्मा ने ट्विटर पर लिखा, “मुझे अभी तक 2017 का दक्षिण अफ्रीका दौरा याद है, जहां आपने मुझे कहा था कि इन देशों में सीरीज जीतने का समय आ गया है। हां हम अफ्रीका में 2017-18 सीरीज नहीं जीत सके, लेकिन हमने स्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में हराया.”

तेज गेंदबाज ने आगे लिखा, “2017-18 में इंग्लैंड में हम सीरीज हार गए थे, लेकिन बतौर टीम हम जानते हैं कि हम इसके कितने करीब थे. सबसे सफल टेस्ट कप्तानी के लिए बधाई. कप्तान के तौर पर अद्भुत यादों के लिए धन्यवाद, जो तुमने हमें दिया है.”

इशांत शर्मा ने आगे लिखा, “बचपन से हमने मैदान के अंदर और बाहर, ड्रेसिंग रूम में जो यादें सहेजीं उनके लिए शुक्रिया. हमने कभी नहीं सोचा था कि तुम हमारे कप्तान होंगे और मैं भारत के लिए 100 टेस्ट मैच खेलूंगा. हमने पूरे दिल से क्रिकेट खेला है.”