वनडे कप्तानी छिनने के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट फॉर्मेट की कप्तानी भी छोड़ दी है. कोहली अब भारतीय टीम के किसी भी फॉर्मेट में कप्तान नहीं होंगे. अंतरराष्ट्रीय फॉर्मेट में 70 सेंचुरी जड़ चुके विराट कोहली टी20 विश्व कप-2021 से पहले ही इंटरनेशनल क्रिकेट के इस सबसे छोटे प्रारूप की कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर चुके थे, जिसके कुछ दिनों बाद उनसे एकदिवसीय टीम की कमान छीन ली गई थी.

बतौर टेस्ट कप्तान शानदार रहा प्रदर्शन

विराट कोहली ने टेस्ट क्रिकेट की कमान छोड़ने का फैसला साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद लिया है. विराट कोहली ने 68 टेस्ट मैचों में भारत की कमान संभाली, जिसमें 40 मुकाबले देश को जिताए. विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने स्वदेश में 11 टेस्ट सीरीज खेली, जिसमें सभी शृंखला अपने नाम की. कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ने का ऐलान करते हुए लिखा कि उन्होंने अपना काम पूरी ईमानदारी के साथ किया है.

विराट कोहली ने लिखा इमोशनल मैसेज

“पिछले 7 साल लगातार कड़ी मेहनत, अथक प्रयासों और दृढता से टीम को सही दिशा में ले जाने के रहे. मैंने पूरी ईमानदारी से काम किया और कोई कसर नहीं छोड़ी. मैंने हमेशा अपनी ओर से 120 प्रतिशत देने पर भरोसा किया है और अगर मैं ऐसा नहीं कर सकता तो मुझे वह सही नहीं लगता. मेरे दिल में यह एकदम साफ है और मैं अपनी टीम के प्रति बेईमान नहीं हो सकता.’’

कोहली ने आगे लिखा, ‘‘मैं बीसीसीआई को धन्यवाद दूंगा कि मुझे इतने लंबे समय तक देश की टीम की कप्तानी करने का मौका दिया. उससे भी महत्वपूर्ण अपने साथी खिलाड़ियों को धन्यवाद दूंगा जिन्होंने टीम के लिये मेरे नजरिए को पहले दिन से अपनाया और किसी भी हालात में हार नहीं मानी. आप सभी ने मेरे इस सफर को यादगार और खूबसूरत बना दिया.’’

कोहली ने लिखा, ‘‘रवि भाई और सहयोगी स्टाफ को धन्यवाद जो इस गाड़ी का इंजिन रहे जो टेस्ट क्रिकेट में लगातार आगे बढ़ती रही. सभी ने इसमें अपना योगदान दिया.आखिर में एम एस धोनी को बहुत धन्यवाद जिन्होंने बतौर कप्तान मुझ पर भरोसा किया और मुझे भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने में सक्षम पाया.”

टेस्ट फॉर्मेट में जड़ चुके 7 दोहरे शतक

99 टेस्ट की 168 पारियों में 10 बार नाबाद रहते 7962 रन बना चुके हैं. इस दौरान उन्होंने 27 शतक, 28 अर्धशतक और 7 दोहरे शतक जड़े हैं. टेस्ट फॉर्मेट में उनका सर्वोच्च 254* रहा. बात अगर 254 वनडे मैचों की करें, तो इसमें 39 बार नाबाद रहते हुए विराट 12169 रन बना चुके हैं. एकदिवसीय मैचों में कोहली 43 सेंचुरी और 62 फिफ्टी लगा चुके हैं. वहीं टी20 अंतर्राष्ट्रीय में कोहली 95 मुकाबलों में 29 अर्धशतक की मदद से 3227 रन बना चुके हैं.