विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट फॉर्मेट के कप्तान पद से इस्तीफा दे दिया है. अपने नेतृत्व में भारतीय सरजमीं पर देश को सभी 11 टेस्ट सीरीज जिता चुके विराट कोहली विश्व स्तर पर भी अपनी कप्तानी को लोहा मनवा चुके हैं. विराट कोहली बतौर कप्तान सर्वाधिक टेस्ट जीतने वाले एशियाई कप्तान हैं. वैश्विक स्तर पर विराट कोहली इस मामले में तीसरे पायदान पर हैं.

विराट कोहली ने अपनी कमान में टीम इंडिया को 68 में से 40 टेस्ट मैच जिताए हैं. उनसे आगे स्टीव वॉ (Steve Waugh) और रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) का नाम है. जहां स्टीव वॉ ने अपने नेतृत्व में देश को 57 में से 41 टेस्ट जिताए. वहीं रिकि पोटिंग की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने 77 में से 48 टेस्ट मैच जीते.

सर्वाधिक टेस्ट मैच जीतने वाले कप्तान:

48 टेस्ट- रिकी पोंटिंग (कुल 77 टेस्ट में कप्तानी)

41 टेस्ट- स्टीव वॉ (कुल 57 टेस्ट में कप्तानी)

40 टेस्ट- विराट कोहली (कुल 68 टेस्ट में कप्तानी)

विराट कोहली ने सोशल मीडिया पर किया ऐलान

विराट कोहली ने भावुक संदेश में लिखा, “मैंने 7 वर्ष की मेहनत और संघर्ष से टीम को सही दिशा में ले जाने की कोशिश की. हर चीज को एक चरण पर रुकना पड़ता है और भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान के तौर पर अब यह मेरे लिए है. मैं जो कुछ भी करता हूं, हमेशा उसमें 120 प्रतिशत देने में विश्वास करता हूं और अगर मैं ऐसा नहीं कर सकता हूं तो मैं जानता हूं कि यह सही नहीं है. मेरे दिल में पूरी तरह स्पष्टता है और मैं अपनी टीम को धोखे में नहीं रख सकता.”

शानदार रहा टेस्ट करियर

99 टेस्ट की 168 पारियों में 10 बार नाबाद रहते 7962 रन बना चुके हैं. इस दौरान उन्होंने 27 शतक, 28 अर्धशतक और 7 दोहरे शतक जड़े हैं. टेस्ट फॉर्मेट में उनका सर्वोच्च 254* रहा. कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष तक पहुंची और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप उपविजेता रही है.