Virender Sehwag Raises Ball Tempering issue during Lords Test: भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने लॉर्ड्स टेस्‍ट के चौथे दिन इंग्लिश क्रिकेटर्स द्वारा की गई चीटिंग पर खुलकर अपनी बात रखी. सहवाग ने पूछा कि मैदान में ये चल क्‍या रहा है ?

इन दिनों कोरोना महामारी के चलते गेंद पर थूक का इस्‍तेमाल करना मना है. ऐसे में गेंद को जल्‍द पुराना करने की कोशिश में इंग्लिश खिलाड़ी मैदान पर गेंद को जूते के नीचे दबाकर उसे खराब करने का प्रयास करते हुए नजर आए.

मैच में सोनी टीवी के लिए कमेंट्री कर रहे वीरेंद्र सहवाग ने ट्वटिर के माध्‍यम से गेंद से छेड़छाड़ का मुद्दा उठाया. उन्‍होंने मैच के दौरान गेंद को जूते से कुचल रहे इंग्लिश क्रिकेटर्स की तस्‍वीर शेयर की. उन्‍होंने लिखा, “ये क्‍या हो रहा है ? क्‍या ये इंग्‍लैंड के क्रिकेटर्स द्वारा गेंद को खराब करने का प्रयास है या फिर कोरोना काल में वो बचाव के लिए कदम उठा रहे हैं.”

वीरेंद्र सहवाग ने इस ट्वीट के साथ हंसने वाली इमोजी भी शेयर करते हुए इंग्‍लैंड के क्रिकेटर्स पर व्‍यंग किया. चौथे दिन दूसरे सेशन के दौरान इंग्लिश क्रिकेटर्स द्वारा पैर से गेंद को खराब करने का प्रयास करने का वाक्‍या कैमरे में कैद हो गया. इसके बाद ये विषय सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगा.

बता दें कि साल 2018 में ऑस्‍ट्रेलिया की टीम के साउथ अफ्रीका दौरे के दौरान बाल टेंपरिंग विवाद सामने आया था. तत्‍कालीन कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ, उपकप्‍तान डेविड वार्नर और बल्‍लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट योजना के तहत गेंद को सेंडपेपर से खराब करते पाए गए. बाद में स्मिथ-वार्नर पर एक साल का बैन लगा दिया गया था. बैनक्रॉफ्ट पर क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया ने नौ महीने का बैन लगाया था.