CWI board member calls for Phil simmons removal after he attended funeral on England tour
Phil Simmons @ Twitter

वेस्टइंडीज के मुख्य कोच फिल सिमन्स (Phil simmons) को इंग्लैंड के खिलाफ आठ जुलाई से शुरू होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज  से पहले अपने ससुर के अंतिम संस्कार में भाग लेना महंगा पड़ सकता है क्योंकि क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यूआई) के एक बोर्ड सदस्य ने उन्हें तुरंत बर्खास्त करने की मांग की है।

क्रिकेट वेस्टइंडीज के बोर्ड सदस्य और बारबाडोस क्रिकेट संघ (बीसीए) के प्रमुख कोंडे रीले ने सिमन्स की हरकत को लापरवाही करार दिया हालांकि वेस्टइंडीज के इस पूर्व आलराउंडर ने सीडब्ल्यूआई की अनुमति ली थी और उन्होंने वापसी के बाद खुद को टीम से अलग थलग कर रखा है।

एबी डीविलियर्स ने बताई 2018 में संन्‍यास की वजह, ‘इस घटना से पार पाना मुश्किल था’

ईएसपीएनक्रिकइन्फो के अनुसार रीले ने कहा, ‘‘बीसीए से जुड़े खिलाड़ियों के माता पिता और सदस्य मेरे पास नाराजगी जता रहे हैं। इस तरह का व्यवहार गैरजिम्मेदाराना और लापरवाही वाला है। इससे ब्रिटेन दौरे पर गये उन 25 युवा खिलाड़ियों और पूरी प्रबंधन टीम की जान खतरे में पड़ी और इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। हमें इस पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए। ’’

चौदह सदस्यीय टीम में नौ खिलाड़ी बारबाडोस के हैं। सीडब्ल्यूआई ने कहा कि सिमन्स ने जैव सुरक्षित वातावरण से बाहर जाने और वापसी के लिये पहले ही अनुमति ले ली थी।

‘‘उनके बाहर निकलने और फिर से जैव सुरक्षित वातावरण में वापसी को मंजूरी दी गयी थी तथा इसे सीडब्ल्यूआई और ईसीबी (इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड) की चिकित्सा टीमों की देखरेख में किया गया तथा दौरे से पहले इस तरह की परिस्थितियों के लिये तैयार किये गये नियमों का पूरा पालन किया गया। ’’

इसमें कहा गया है, ‘‘वापसी के बाद सिमन्स खुद ही खिलाड़ियों से अलग क्‍वारेंटाइन में  चले गये जैसे की पूर्व योजना थी। उनके शुक्रवार से लेकर अब तक कोविड-19 के लिये दो परीक्षण किये गये और दोनों नेगेटिव आये हैं। ’’

2011 World Cup Final: मैच फिक्सिंग जांच में अरविंद डी सिल्वा से 9 साल बाद हुई 6 घंटे तक पूछताछ

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (जो रूट) को भी अपने दूसरे बच्चे के जन्म के लिये टीम का साथ छोड़ने की अनुमति दी गयी है। इस कारण से वह साउथम्पटन में पहले टेस्ट मैच में नहीं खेल पाएंगे। इस तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी भी होगी जो कि कोविड-19 महामारी के कारण मार्च से ही ठप्प पड़ी है।