मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के खिलाफ मैच में हारकर आईपीएल (IPL) 2022 के प्लेऑफ की दौड़ से आधिकारिक तौर पर बाहर हो चुकी चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) टीम अब बचे हुए दो लीग मैचों में नए खिलाड़ियों को आजमाने पर ध्यान देगी. मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग (Stephen Fleming) का भी यही कहना है जो कि टीम के युवा गेंदबाजों के प्रदर्शन से काफी संतुष्ट हैं

सीएसके ने मुकेश चौधरी और सिमरजीत सिंह को एक नई दिशा दिखाई है. राजस्थान के भीलवाड़ा के 25 साल के  बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मुकेश ने नई गेंद से अपने चार ओवरों में 23 रन देकर तीन विकेट लिए, जबकि दिल्ली के 24 वर्षीय तेज गेंदबाज सिमरजीत ने रोहित शर्मा का विकेट झटका.

फ्लेमिंग ने कहा कि दोनों गेंदबाजों ने इस फ्रेंचाइजी के साथ आगे बढ़ने के लिए अच्छे संकेत दिखाए हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि, “गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है, जो दोनों के लिए अच्छे हैं. मुकेश ने पूरे सीजन में शानदार प्रदर्शन किया है. वहीं, दीपक चाहर भी टीम में वापसी कर सकते हैं.”

तेज गेंदबाज चाहर इस सीजन में सीएसके के लिए एक भी मैच नहीं खेल पाए हैं क्योंकि बेंगलुरु में उन्हें नेशनल क्रिकेट एकेडमी में चोट लग गई थी.

मुख्य कोच ने कहा कि पिच के व्यवहार से वो हैरान थे. फ्लेमिंग ने कहा कि मुंबई इंडियंस के खिलाफ सुपर किंग्स के पास मैच के शुरुआती चरणों में कोई डीआरएस नहीं था, जिसका वे प्रयोग नहीं कर पाए और एक उम्मीद थी अगर डीआरएस होता तो शायद वह मैच जीत सकते थे.

उन्होंने अंत में कहा कि, “यह थोड़ा दुर्भाग्यपूर्ण था कि उस समय ऐसा हुआ, हां हम थोड़े निराश हैं लेकिन यह खेल का एक हिस्सा है. आईपीएल में हमने कई सारे मैच गंवाए, जिससे टीम प्लेऑफ तक नहीं पहुंच पाई. यह निश्चित रूप से अच्छी शुरुआत नहीं थी.”