कर्टली एंब्रोस © Getty Images
कर्टली एंब्रोस © Getty Images

वेस्टइंडीज के महान तेज गेंदबाज कर्टली एंब्रोस ने इंग्लैंड का कोच बनने की इच्छा जताई है। एंब्रोस ने एक बयान में कहा कि अगर उन्हें इंग्लैंड का गेंदबाजी कोच बनने का मौका मिला तो वो उसे स्वीकार करेंगे क्योंकि उनके पास इंग्लैंड के गेंदबाजों को देने के लिए बहुत कुछ है। एंब्रोस अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में दोबारा वापसी करने के इच्छुक हैं। इंग्लैंड के मौजूदा गेंदबाजी कोच ओटिस गिब्सन वेस्टइंडीज के खिलाफ चल रही 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के बाद अपना पद छोड़ देंगे। खबरें हैं कि वो द.अफ्रीका के कोच बन सकते हैं।

आपको बता दें कर्टली एंब्रोस वेस्टइंडीज के गेंदबाजी कोच रह चुके हैं लेकिन उन्हें 2016 में टी20 वर्ल्ड कप जीतने के तुरंत बाद पद से हटा दिया गया। वेस्टइंडीज के कोच फिल सिमंस के कहने पर एंब्रोस को गेंदबाजी कोच के पद से हटा दिया गया था और उनकी जगह रॉडी एस्टविक को ये जिम्मेदारी दी गई थी। एंब्रोस ने वेस्टइंडीज के गेंदबाजी कोच पद से हटाए जाने पर भी बयान देते हुए कहा, ‘मुझे गेंदबाजी कोच से हटाने का फैसला बेहद ही हैरान करने वाला था क्योंकि फिल सिमंस ने मुझे कभी नहीं कहा कि आप अच्छा काम नहीं कर रहे हो। उन्होंने मुझे एक दिन फोन किया और कहा कि वो तकनीकी तौर पर मजबूत गेंदबाजी कोच चाहते हैं लेकिन उन्होंने मुझे कभी नहीं कहा कि मेरी तकनीक में कुछ कमी है। उनका क्या मतलब था मुझे नहीं पता।’ ये भी पढ़ें: चेतेश्वर पुजारा की शानदार बल्लेबाजी के पीछे ये है वजह, किया बड़ा खुलासा

कर्टली एंब्रोस अपने जमाने के बेहद ही घातक गेंदबाज थे। उनकी तेजी और गेंद की उछाल के आगे अच्छे-अच्छे बल्लेबाजों के हौसले पस्त हो जाते थे। एंब्रोस ने 98 टेस्ट में 405 विकेट लिए थे जबकि 176 वनडे में उनके नाम 225 विकेट थे। लंबे कद के इस तेज गेंदबाज ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में कुल 941 विकेट चटकाए। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वाका में उनका एक रन देकर 7 विकेट लेना आज भी क्रिकेट प्रेमियों को अच्छी तरह से याद है। अगर एंब्रोस को इंग्लैंड के गेंदबाजी कोच बनने की जिम्मेदारी मिलती है तो जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड, मार्क वुड, क्रिस वोक्स जैसे तेज गेंदबाजों को जरूर फायदा होगा।