Danish Kaneria Appeals PCB To Remove Life Ban; Seeks Permission To Play Domestic Cricket
Danish Kaneria @ians

पाकिस्तान के लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने अपने क्रिकेट बोर्ड से उन पर 2013 में स्पॉट फिक्सिंग के लिए लगाया गया आजीवन प्रतिबंध हटाने की अपील की है। पाकिस्तान की तरफ से 61 टेस्ट मैचों में 261 विकेट लेने वाले कनेरिया क्रिकेट में वापसी के लिए बेताब हैं और यहां तक कि वह घरेलू क्रिकेट में खेलने के लिए भी उत्सुक हैं।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष एहसान मनी को भेजे गए पत्र में 39 वर्षीय कनेरिया के कानूनी फर्म ने प्रतिबंध हटाने का आग्रह किया है जिससे यह क्रिकेटर खेल के जरिये अपनी आजीविका चला सके।

IPL या विश्व कप? किस टूर्नामेंट में खेलना चाहते हैं रोहित शर्मा

कनेरिया पर इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने आजीवन प्रतिबंध लगाया था। जब इसके खिलाफ उनकी अपील खारिज हो गई तो पीसीबी ने भी उन पर प्रतिबंध लगा दिया था।

कई बार कह चुके हैं ये बात 

कनेरिया पूर्व में भी कई अवसरों पर कह चुके हैं कि अगर मोहम्मद आमिर और सलमान बट जैसे खिलाड़ियों पर से प्रतिबंध हटाया जा सकता है तो फिर उन्हें अपनी आजीविका चलाने से वंचित करना अनुचित होगा।

सात साल बाद ऑस्ट्रेलिया के इस क्लब से जुड़े स्पिनर एडम जांपा

इस लेग स्पिनर को 2009 में इंग्लिश काउंटी एसेक्स की तरफ से डरहम के खिलाफ खेले गये मैच में मर्विन वेस्टफील्ड के साथ स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाया गया था। वह लंबे समय से पीसीबी से मदद की गुहार लगा रहे हैं।

कनेरिया पाकिस्तान की तरफ से खेलने वाले केवल दूसरे हिंदू खिलाड़ी हैं। उनसे पहले उनके मामा अनिल दलपत ने भी पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया था।