Darren Lehmann: Cricket Australia could have done more to alleviate the effect of ball-tampering scandal
Darren Lehmann (File Photo) © Getty Images

बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया में लगातार उथल पुथल का दौर जारी है। टीम अपने बुरे दौर से गुजर रही है। केपटाउन टेस्‍ट के दौरान हुई इस घटना के बाद से ही तत्‍कालीन कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ और उपकप्‍तान डेविड वार्नर एक साल का बैन हैं। बल्‍लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर भी एक साल का बैन लगा है।

सिडनी डेली टेलीग्राफ से बातचीत के दौरान पूर्व कोच डैरेन लेहमन ने कहा, “क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया को इस घटना के सामने आने के बाद इसके प्रभाव का कम करने के लिए थोड़ा ज्‍यादा काम करना चाहिए था।” लेहमन ने इस घटना से उबरने के लिए काउंसलिंग भी ली थी। उन्‍होंने कहा, “ क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया द्वारा दिए गए सपोर्ट के लिए शुक्रिया, लेकिन इसके बावजूद मैं कहूंगा कि उन्‍हें इसके प्रभाव को कम करने क लिए ज्‍यादा काम करना चाहिए था।”

डैरन लेहमन ने कहा, “मैंने लोगों को इस घटना के बारे में बात करते देखा। अब भी लोग इस बारे में बात कर रहे हैं। मुझे नहीं लगता कि किसी को पता होगा कि इससे जुड़े लोगों की जिंदगी घटना के बाद पर्दे के पीछे कितनी प्रभावित हुई है, लेकिन ये एक ऐसी चीज है जिससे हमें गुजरना ही होगा।”

लेहमन ने कहा, “परिवार और दोस्‍तों की मदद से मैं इससे बाहर आ पाया हूं। मेरे लिए अब सब कुछ ठीक ठाक है। वो बुरा वक्‍त था। हर किसी की जिंदगी में बुरा और अच्‍छा वक्‍त आता है। मुझे पता है कि बॉल टेंपरिंग से जुड़े तीनों किरदारों के जीवन में भी काफी बुरा समय रहा है। हम उम्‍मीद करते हैं कि उन्‍हें इससे उबरने में सही मदद मिलेगी। उन्‍हें इससे भी ज्‍यादा मदद दी जानी चाहिए थी।”

बॉल टेंपरिंग को लेकर की गई स्‍वतंत्र जांच की रिपोर्ट में क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया की प्रणाली पर सवाल उठाए गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि बोर्ड इस तरह की घटना को होने से रोक सकता था। रिपोर्ट में कहा गया कि उन दिनों कुछ खिलाड़ियों ने टीम स्‍टॉफ को गालियां भी दी थी। हालांकि लेहमन ने इससे सिरे से खारिज किया है। उन्‍होंने कहा, “मैंने ऐसा कुछ भी नहीं देखा। हो सकता है मेरे आने से पहले के समय में ऐसा हुआ हो।”