ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने एक साल के प्रतिबंध झेलने के बाद हाल में इंटरनेशनल क्रिकेट में धमाकेदार वापसी की है. वॉर्नर को साल 2018 केपटाउन टेस्ट के दौरान बॉल टैंपरिंग मामले में ये बैन लगाया गया था.

IND vs NZ, 3rd ODI, Live streaming: जानें सुबह कितने बजे कब और कहां खेला जाएगा तीसरा वनडे

बाएं हाथ के इस सलामी बल्लेबाज के लिए सोमवार को दिन शानदार रहा. उन्हें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने तीसरी बार एलन बॉर्डर पदक से सम्मानित किया. महिलाओं में एलिस पेरी को दूसरी बार बेलिंडा क्लार्क पुरस्कार से नवाजा गया.

वार्नर ने इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए महज एक मत से पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ को पछाड़ा. पिछले साल के विजेता तेज गेंदबाज पैट कमिंस तीसरे स्थान पर रहे.

वार्नर को 194 वोट मिले 

वॉर्नर को 2016 और 2017 में भी इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. उन्हें टेस्ट, एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय में मिलाकर 194 मत मिले जो स्मिथ से एक और कमिंस से नौ मत अधिक थे.

IND vs NZ: भारत के लिए ‘लकी’ रहा है माउंट माउंगानेई का बे ओवल मैदान, जानिए क्या कहते हैं आंकड़े

महिलाओं में पेरी ने बेलिंडा क्लार्क पुरस्कार जीता तो वहीं टीम की उनकी साथी खिलाड़ी एलिसा हीली को साल की सर्वश्रेष्ठ टी20 और एकदिवसीय महिला खिलाड़ी चुना गया.

फिंच और लाबुशेन को भी सम्मानित किया गया 

पुरुषों में वॉर्नर को साल का सर्वश्रेष्ठ टी20 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी चुना गया. एरोन फिंच को सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय जबकि मार्नस लाबुशेन को साल का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट खिलाड़ी चुना गया. वॉर्नर ने पिछले साल पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच में तिहरा शतक लगाया था.