डेविड वॉर्नर और ट्रेविस हेड © Getty Images
डेविड वॉर्नर और ट्रेविस हेड © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच खेले जा रहे पांचवें और आखिरी वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया के दोनों सलामी बल्लेबाजों ने पाकिस्तानी गेंदबाजों की जमकर धुनाई की। दोनों ही बल्लेबाजों के सामने हर पाक गेंदबाज मामूली साबित हो रहा था। दोनों ही बल्लेबाजों ने मैदान के हर कोनों में गेंद को पहुंचाया और अपने-अपने शतक ठोक डाले। इसके साथ ही दोनों ने बेहतीरन बल्लेबाजी का मुजाबिरा पेश करते हुए इतिहास रच दिया। इसके साथ ही वॉर्नर ने सचिन तेंदुलकर के खास रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली।

वॉर्नर ने जैसे ही 150 रनों के स्कोर को छुआ वैसे ही उन्होंने सचिन के सबसे ज्यादा बार 150 रनों के छूने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। सचिन ने अपने करियर में 5 बार 150 रनों के स्कोर को छुआ है और वॉर्नर ने भी पाकिस्तान के खिलाफ 179 रनों की पारी खेली और इसी के साथ ही वह सचिन के 5 बार 150 रनों के रिकॉर्ड की बराबरी करने वाले बल्लेबाज बन गए। सचिन ने अपने करियर में पांच बार 150 या इससे ज्यादा की पारी खेली थी। सचिन ने नामीबिया के खिलाफ (152), न्यूजीलैंड के खिलाफ (163), दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (175), न्यूजीलैंड के खिलाफ (186*) और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (200*) की पारी खेली थी। वहीं डेविड वॉर्नर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ (156), श्रीलंका के खिलाफ (163), दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (173), अफगानिस्तान के खिलाफ (178) और पाकिस्तान ेक खिलाफ (179) रनों की पारी खेलकर सचिन के सबसे ज्यादा बार 150 से ज्यादा रन बनाने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली।

डेविड वॉर्नर और ट्रेविस हेड की जोड़ी ने गुरुवार को एडिलेड में पाकिस्तान के खिलाफ अंतिम वन-डे में पहले विकेट के लिए ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड बना डाला। साथ ही उनकी यह साझेदारी पहले विकेट के लिए वन-डे में दूसरी बड़ी साझेदारी है। वॉर्नर और हेड ने एडिलेड ओवर पर पाकिस्तानी गेंदबाजों की धुनाई करते हुए पहले विकेट के लिए 284 रनों की साझेदारी की। यह वन-डे क्रिकेट में पहले विकेट के लिए ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे बड़ी साझेदारी है। यह साझेदारी तब टूटी जब वॉर्नर 179 रन बनाकर 42वें ओवर में आउट हुए। ट्रेविस हेड ने 128 रन बनाए। यह उनका वन-डे क्रिकेट में पहला शतक है। इन दोनों की जोड़ी ने एरोन फिंच और शॉन मार्श द्वारा 3 सितंबर 2013 को स्कॉटलैंड के खिलाफ की गई 246 रनों की भागीदारी के रिकॉर्ड को तोड़ा।  ये भी पढ़ें: भारत बनाम इंग्लैंड, पहला टी20I, कानपुर(प्रिव्यू): जीत के साथ शुरुआत करना चाहेगी टीम इंडिया

यह अंतरराष्ट्रीय वन-डे क्रिकेट में पहले विकेट के लिए दूसरी बड़ी और किसी भी विकेट के लिए पांचवीं बड़ी साझेदारी है। पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड श्रीलंका के सनत जयसूर्या और उपुल थरंगा के नाम है जिन्होंने 1 जुलाई 2006 को लीड्सक में इंग्लैंड के खिलाफ 286 रनों की साझेदारी की थी। वॉर्नर और हेड द्वारा की गई 284 रनों की साझेदारी ऑस्ट्रेलिया की तरफ से वन-डे में किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी हो गई। इन्होंने वॉर्नर और स्टीव स्मिथ द्वारा 2015 विश्व कप में अफगानिस्तान के खिलाफ की 260 रनों की साझेदारी के रिकॉर्ड को तोड़ा। ऑस्ट्रेलिया पहले ही सीरीज को अपने नाम कर चुका है और अब उसका इरादा आखिरी मैच को जीतकर सीरीज में जीत के अंतर को और बढ़ाने का होगा