David Warner: had no doubt that I had the capabilities of coming back and being here again
डेविड वार्नर (Twitter)

बॉल टैंपरिंग मामले में एक साल का बैन और भविष्य में कभी भी ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी ना कर पाने की सजा झेलने वाले डेविड वार्नर को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़े सम्मान- एलेन बॉर्डर मेडल से सम्मानित किया गया। लोग इसे वार्नर के पश्चाताव और वापसी के बाद की कड़ी मेहनत का फल मान रहे हैं वहीं कई लोग ऐसे भी हैं जो इस सलामी बल्लेबाज को ये सम्मान दिए जाने की आलोचना कर रहे हैं।

अपने करियर में तीसरी बार इस सम्मान को हासिल करने वाले 33 साल के वार्नर ने अपने साथी खिलाड़ियों स्टीव स्मिथ और पैट कमिंस को पीछे छोड़ा। वार्नर एक वोट के अंतर से स्मिथ को पछाड़कर विजेता बने।

2020 एलेन बॉर्डर मेडल वोट:

डेविड वार्नर: 194

स्टीव स्मिथ: 193

पैट कमिंस: 185

सोमवार को हुए सम्मान समारोह के दौरान मेडल मिलने पर भावुक हुए वार्नर ने कहा, “जब आप इतने करीब होते हैं तो कुछ समझ नहीं आता इसलिए ये मेरे लिए आश्चर्यजनक है। मुझे अपनी वापसी करने और यहां आने की काबिलियत पर कभी शक नहीं था।”

वार्नर ने कहा, “दोबारा टीम में चुने जाने के पीछे काफी मेहनत और प्रतिबद्धता थी। और फिर जाकर वो करना जो कि मुझे बेहद अच्छे से आता है- जिस भी प्रतिद्वंदिता में खेलो उसमें ज्यादा से ज्यादा रन बनाना।”

सचिन तेंदुलकर से मिलीं शेफाली वर्मा, कहा- बचपन का सपना हुआ पूरा

वार्नर ने स्मिथ के साथ इंग्लैंड में आयोजित वनडे विश्व कप के जरिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की। जहां वार्नर ने 71.88 की औसत से 647 रन बनाए और ऑस्ट्रेलिया के सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बने।

हालांकि वार्नर के लिए प्रतिष्ठित एशेज सीरीज खास अच्छी नहीं रही। लगातार इंग्लिश गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड का शिकार हुए वार्नर ने 90 पारियों में मात्र 95 रन ही बनाए। लेकिन उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में धमाकेदार वापसी की।

वार्नर ने पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज के एडिलेड टेस्ट में ही अपने करियर का सर्वोच्च 335 रन का स्कोर बनाया और ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक जड़ने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल हुए।

अगर महेंद्र सिंह धोनी को संन्यास लेना होगा तो चुपचाप चला जाएगा : रैना

वार्नर विश्व कप विजेता कप्तानों रिकी पॉन्टिंग (2004, 2006, 2007) और माइकल क्लार्क (2005, 2012, 2015) के बाद तीन बार एलेन बॉर्डर मेडल जीतने वाले तीसरे खिलाड़ी हैं। इससे पहले साल 2016 और 2017 में भी वार्नर को इस मेडल से सम्मानिक किया जा चुका है।