David Warner let Stuart Broad get into his head, says Justin Langer
डेविड वार्नर (Twitter)

स्टीव स्मिथ के शानदार प्रदर्शन के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के खिलाफ 2-2 से बराबर रही एशेज सीरीज में अर्न ट्रॉफी रीटेन कर ली है। हालांकि स्मिथ के जोड़ीदार और सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर के लिए ये सीरीज बेहद निराशाजनक रही है। वार्नर इस सीरीज के दौरान कुल सात बार इंग्लिश तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ आउट हुए। कोच जस्टिन लैंगर का मानना है कि ब्रॉड के खिलाफ असफल होने का एक कारण वार्नर का उनके बारे में जरूरत से ज्यादा सोचना था।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को दिए बयान में कोच ने कहा, “सच कहूं तो उसने ब्रॉड को अपने दिमाग पर हावी होने दिया और उसके बारे में बहुत ज्यादा सोचा। मैंने ये पहले देखा है, कई महान खिलाड़ियों के साथ। मुझे याद है (साल 2005 में) गिली (एडम गिलक्रिस्ट) और एंड्रयू फ्लिंटॉफ।”

लैंगर ने आगे कहा, “मुझे स्टीव वॉ को दक्षिण अफ्रीका में टीम बस में बैठे देखना याद है। और वो खिलाड़ी काफी समय तक रन मशीन बना हुआ था, वो स्टंप्स से ठीक पहले आउट हुआ और मुझे लगा कि ये मेरी अब तक की देखी सबसे कमाल की चीज है क्योंकि मैं सोच ही नहीं सकता था कि महान खिलाड़ी भी खराब दौर से गुजरते हैं। मैं हमेशा ही इस तरह के दौर से गुजरता था, लेकिन महान खिलाड़ी भी इससे गुजरते हैं और यकीन है कि डेविड, हम सबको पता है कि वो कितना अच्छा खिलाड़ी है, इस बार में कोई दोराय नहीं है लेकिन उसके लिए ये मुश्किल था, खासकर कि स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ।”

हम सीरीज जीतना पसंद करते लेकिन हारे नहीं हैं: बेन स्टोक्स

अपने करियर के दिनों को याद करते हुए लैंगर ने कहा, “मुरली के खिलाफ मेरे साथ ऐसा ही होता था और मैं उस समस्या को हल नहीं कर पाता था और ये काफी मुश्किल होता है जब आप किसी परेशानी को हल करने की कोशिश कर रहे होते हैं और फिर आप एक बड़ी सीरीज के बीच में इसे सुलझाने की कोशिश कर रहे होते हैं। इस समय मुझे नहीं लगता कि डेविड ने मुश्किल हल कर ली है और वो ये मानने वाला पहला शख्स होगा। वो ये जानकर खुश होगा कि वो पहली फ्लाइट में सवार होगा और उसे स्टुअर्ट ब्रॉड का सामना नहीं करना होगा। लेकिन उसे यकीन है कि उसकी बल्लेबाजी में अब भी बहुत कुछ है।”

निराशाजनक एशेज सीरीज के बावजूद वार्नर का ऑस्ट्रेलिया के घरेलू सीजन के लिए टेस्ट टीम में बने रहना लगभग तय है। लैंगर ने कहा, “मैंने काफी समय में ये सीखा है कि आप चैंपियन खिलाड़ियों को नजरअंदाज नहीं सकते हैं। इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि खेल कौन सा है, आप कभी भी एक चैंपियन खिलाड़ी को कमतर नहीं समझते हैं।”

एशेज सीरीज में अपने शानदार प्रदर्शन से गौरवान्वित हैं स्टीव स्मिथ

कोच ने आगे कहा, “वो फिर से अच्छा प्रदर्शन करते हैं, उसकी सीरीज मुश्किल रही इस बात में कोई दोराय नहीं है लेकिन वो चैंपियन खिलाड़ी है इसलिए उसके जैसे खिलाड़ियों को फॉर्म में लौटने के लिए ज्यादा समय मिलता है। ये सीरीज उसकी योजना के हिसाब से नहीं गई लेकिन उसे पता है कि वो कितना सफल रहा है और ऑस्ट्रेलिया की जीत में उसका कितना प्रभाव रहा है इसलिए मुझे विश्वास है कि वो वापसी करेगा। वास्तव में मैं उम्मीद कर रहा हूं कि वो वापसी करे।”