David Warner regrets returning for Australia’s Test series against India
डेविड वार्नर (Twitter)

भारत के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान चोटिल हुए सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी टेस्ट सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया टीम में लौटने के अपने फैसले पर पछता रहे हैं।

वार्नर गुरूवार को साउथ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ न्यू साउथ वेल्स के लिए मार्श वनडे कप के मैच में हिस्सा लेंगे। इस मैच के साथ वार्नर अक्टूबर 2019 के बाद पहला वनडे मैच खेलेंगे।

सीनियर क्रिकेटर ने बुधवार को दिए बयान में माना कि उन्होंने भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के तीसरे और चौथे मैच के लिए टीम में लौटकर जल्दबाजी कर दी थी।

वार्नर ने कहा, “इससे मैं थोड़ा पिछड़ गया। इस बारे में दोबारा सोचते हुए, मुझे एहसास होता है कि शायद मैं ऐसा नहीं करता। अगर मैं अपने और अपनी चोट के बारे में सोचता, तो शायद मैं ना कह देता। मेरे पास चोट से उबरने का समय होता और फिर दक्षिण अफ्रीका का दौरा रद्द हो गया, इससे मुझे फिट होने का और ज्यादा समय मिल जाता।”

PCB की समस्या बढ़ी, पाकिस्तान सुपर लीग में मिले तीन नए कोविड-19 मामले

ग्रोइन इंजरी से उबरकर मैदान पर वापसी के लिए तैयार वार्नर अब 2032 विश्व कप पर नजरें जमाएं हुए हैं। ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज को उम्मीद है कि कंगारू टीम भारत में होने वाले वनडे विश्व कप में जीत सकती है।

उन्होंने कहा, “हमारे पास 2023 विश्व कप खेलने और भारत में जीतने का अच्छा मौका है। कोर टीम के साथ, उनकी उम्र को देखते हुए ये हम में से कई लोगों का आखिरी विश्व कप होगा। फिर आपको कभी ना कभी तो खेल को अलविदा कहना ही होगा अगर आप 41 साल तक खेलने की योजना नहीं बना रहे हैं। टेस्ट क्रिकेट के नजरिए से, मैं जितना हो सके उतना लंबा खेलना चाहूंगा।”