delhi to host knockout matches of vijay hazare trophy 2021 from march 7
अरुण जेटली स्टेडियम @Twitter

देश में भले ही इस नए साल में जनवरी से ही क्रिकेट की वापसी हो गई हो लेकिन दिल्ली अभी तक इस वापसी से दूर थी. आखिरकार दिल्ली का यह इंतजार अब खत्म हो गया है और 7 मार्च से वह देश के घरेलू वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) के नॉकआउट मैचों की मेजबानी करेगी. विजय हजारे ट्रॉफी के नॉकआउट स्टेज के ये मुकाबले अरुण जेटली स्टेडियम और पालम मैदान पर खेले जाएंगे.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के सचिव के कार्यालय से सभी मान्यता प्राप्त इकाइयों को 25 फरवरी को भेजे गए ईमेल के मुताबिक, इसकी जानकारी दे दी गई है. इस टूर्नामेंट का लीग स्टेज पहले ही 6 अलग-अलग शहरों में खेला जा रहा है. फिलहाल कोविड- 19 (Covid- 19) के चलते यह टूर्नामेंट या देश में आयोजित हो रहीं सभी खेल गतिविधियां फिलहाल बायो सिक्योर बबल में ही खेली जा रही हैं.

ऐसे में विजय हजारे ट्रॉफी का यह नॉकआउट स्टेज भी बायो बबल में ही खेला जाएगा. इस टूर्नमेंट में भाग लेने वाली सभी 38 टीमों को 5 एलीट ग्रुप और 1 प्लेट ग्रुप में बांटा गया है. फिलहाल इस टूर्नामेंट के लीग स्टेज के मुकाबले सूरत, इंदौर, बेंगलुरु, जयपुर, कोलकाता और चेन्नई में खेले जा रहे हैं. बीसीसीआई की वेबसाइट के अनुसार प्रीक्वॉर्टर फाइनल (एलिमिनेटर) सात मार्च को जबकि क्वॉर्टर फाइनल 8 और 9 मार्च को खेले जाएंगे.

दो सेमीफाइनल 11 मार्च को जबकि फाइनल 14 मार्च को आयोजित होगा. बीसीसीआई ने इस संक्षिप्त 2020-21 घरेलू सत्र में दो घरेलू टूर्नामेंट का आयोजन किया है. विजय हजारे ट्रॉफी से पहले राष्ट्रीय टी20 चैम्पियनशिप सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेली गयी थी.

इनपुट : भाषा