Dependency on one player won’t win you series says Kapil Dev
England captain Joe Root (r) and India captain Virat Kohli © Getty Images

इंग्लैंड टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम को मिली हार के बाद फैंस और दिग्गज काफी नाराज है। इस दौरे पर कप्तान विराट कोहली अकेले ही इंग्लैंड के खिलाफ लड़ते नजर आए हैं। अपने पिछले दौरे की कड़वी यादों को भुलाते हुए कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए रनों की झड़ी लगाई लेकिन फिर भी टीम को जीत नहीं दिला सके।

कप्तान कोहली ने अकेले किया संघर्ष

पिछले दौरे पर जहां पांच टेस्ट मैच में कोहली बामुश्किल 134 रन जुटा पाए थे वहीं अब तक इस दौरे पर वो 4 टेस्ट की आठ पारियों में 544 रन बना चुके हैं। विराट कोहली अकेले ही संघर्ष करते दिख हैं जिससे पूर्व कप्तान और दिग्गज ऑलराउंडर कपिल देव काफी नाखुश हैं।

कोहली रन बनाकर भी नहीं टाल पाए हार

कपिल देव ने टेलीग्राफ से बात करते हुआ कहा, ”क्रिकेट एक टीम गेम हैं, किसी एक या दो खिलाड़ी पर निर्भर नहीं करता है। विराट कोहली ने 500 से ज्यादा रन बनाए जबकि इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने उतने रन नहीं बनाए फिर भी वो इंग्लिश टीम को जीतने से नहीं रोक पाए।”

हमने इंग्लैंड को वापसी का मौका दिया

भारतीय टीम बर्मिंघम और साउथम्पटन में टेस्ट मैच जीतने के करीब पहुंची थी लेकिन ऐसा करने में नाकाम रही। चौथे टेस्ट में मिली हार के बाद कप्तान कोहली ने भी यही बात कही थी कि सिर्फ लड़ने से कुछ नहीं होगा मैच जीतना सीखना होगा।

कपिल ने कहा- ”अगर सबकुछ ठीक सही तरीके से हुआ होता तो भारतीय टीम सीरीज जीत रही होती लेकिन जो हो गया सो हो गया। अब मैं देखना चाहूंगा भारतीय टीम हार के बावजूद यहां से क्या पॉजिटिव लेकर वापस लौटती है। अगर आप ध्यान देंगे तो सीरीज में ऐसे कई मौके थे जब हम जीत हासिल करने के करीब थे लेकिन ऐसा नहीं हुआ। हमने कई गलतियां की और उनको वापसी का मौका दिया।”