मंजोत कालरा © Getty Images
मंजोत कालरा © Getty Images

भारतीय अंडर-19 क्रिकेटर मंजोत कालरा को बीसीसीआई से हरी झंडी मिलने के बाद भी डीडीसीए ने उन्हें दोबारा एज वेरिफिकेशन टेस्ट देने के लिए कहा है। पूर्व क्रिकेटर मदनलाल की अध्यक्षता वाली डीडीसीए की सुझाव समिति को भी तब शर्मिंदा होना पड़ा जब कालरा को कूच-बिहार ट्रॉफी के लिए चुनी गई दिल्ली अंडर-19 टीम का कप्तान बनाै दिया गया और खिलाड़ियों की सूची डीडीसीए की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई जिसे बाद में हटाना पड़ा। डीडीसीए के व्यवस्थापक विक्रमजीत सेन ने कहा है कि सभी खिलाड़ी दोबारा से एज वेरिफिकेशन टेस्ट देंगे। बाएं हाथ के बल्लेबाज कालरा ने हाल ही में इंग्लैंड अंडर-19 टीम के खिलाफ खेले गए यूथ टेस्ट में शतक लगाया था। माना जा रहा है कि अगले साल न्यूजीलैंड में होने वाले जूनियर विश्व कप के लिए जाने वाली टीम में उनका चयन निश्चित है।

शुभम गिल और पृथ्वी शॉ के साथ कालरा भी राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में तैयार हुए सर्वश्रेष्ठ अंडर-19 खिलाड़ियों में से एक हैं। जस्टिस सेन ने अपने तीन पेज के खत में ये माना है कि बीसीसीआई ने ये पुष्टि कर दी है कि कालरा की जन्मतिथि 15 जनवरी 1999 ही है। सेन ने लिखा है कि, “बीसीसीआई ने अधिसूचना दी है कि उन्होंने पूरी जांच के बाद 15/1/1999 को मंजोत कालरा की जन्मतिथि मान लिया है।” कालरा ने अपनी जन्मतिथि को प्रमाणित करने के लिए दसवीं की मार्कशीट के साथ पासपोर्ट की कॉपी और पैन कार्ड भी जमा किया है। हालांकि दूसरे खिलाड़ियों के पैरेंट्स ने रोहिणी स्थित कालरा के स्कूल लैंसर्स कॉन्वेंट स्कूल के कुछ ऐसे दस्तावेज पेश किए हैं जिसमें कालरा की जन्मतिथि 15-1-1998 है। [ये भी पढ़ें: सचिन तेंदुलकर को आउट करने के बाद विराट कोहली को चुनौती देना चाहता है ये करिश्माई गेंदबाज]

साल 2015 में पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने दिल्ली पुलिस में एक शिकायत की थी। सेन ने अपनी चिट्ठी में कहा, “इस स्तर पर यह अनुमान नहीं लगाया जा सकता है कि कालरा द्वारा दिए दस्तावेज गलत हैं या नहीं। वास्तव में अफसोस की बात है कि उम्र सत्यापन शिकायत के संबंध में एफआईआर 312/2015 अभी भी रूकी पड़ी है। इससे खेल को कुछ फायदा नहीं होगा खासकर क्रिकेट को। चूंकि काफी समय से एफआईआर लंबित है इसलिए डीडीसीए के पास अपनी तरफ से जांच करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। यह सही है कि मंजोत कालरा को एक मेडिकल टेस्ट से गुजरना होगा।”