Dilip Vengsarkar: Ban on Musheer Khan looks a bit harsh

मुंबई क्रिकेट एसोसिशन ने हाल ही में अंडर-16 टीम के कप्तान मुशीर खान पर साथी खिलाड़ियों के सामने अनुचित व्यवहार करने के लिए तीन साल का बैन लगाया है। पूर्व क्रिकेटर दिलीप वेंगसरकर ने 14 साल के मुशीर पर लगाए बैन को सख्त बताया है।

ये भी पढ़ें: ‘हार्दिक पांड्या, राहुल को जांच लंबित रहने तक खेलने की अनुमति मिले’

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए बयान में पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, “मैं एड-हॉक समिति के फैसले पर टिप्पणी नहीं करूंगा क्योंकि जब ये सब हुआ मैं भारत से बाहर था और मुझे मामले के पूरी जानकारी नहीं है लेकिन देखा जाय तो ये बैन ज्यादा ही सख्त है।”

एमसीए के मुख्य प्रशासक और चयनकर्ता रह चुके वेंगसरकर ने खिलाड़ियों की काउंसलिंग पर जोर दिया। हाल ही में बीसीसीआई ने भारतीय राष्ट्रीय टीम के हार्दिक पांड्या और केएल राहुल एक टीवी शो के दौरान अपनी आपत्तिजनक टिप्पणियों के चलते सस्पेंड किया है।

ये भी पढ़ें: MCA का सख्त फैसला, 14 साल के क्रिकेटर पर लगाया तीन साल का प्रतिबंध

वेंगसरकर ने कहा, “बीसीसीआई को नेशनल क्रिकेट अकादमी में युवा खिलाड़ियों की काउंसलिंग करवानी चाहिए। उसी तरह से से एमसीए को भी युवा खिलाड़ियों के लिए काउंसलिंग की शुरुआत करनी चाहिए क्योंकि उनसे में कई पिछड़े बैकग्राउंड से आते हैं।”

बता दें कि एमसीए ने जिस मुशीर खान पर तीन साल का बैन लगाया है वो सरफराज खान के भाई हैं। सरफराज इंडियन प्रीमियर लीग में विराट कोहली की कप्तानी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेल चुके हैं। मुशीर पर लगा ये बैन 14 जनवरी 2022 तक चलेगा।