Dimuth Karunaratne: We weren’t so concerned about winning or losing, just wanted to compete
Dimuth Karunaratne © AFP

पिछले एक-दो सालों से लगातार खराब दौर से गुजर रही श्रीलंका टीम ने दक्षिण अफ्रीका दौरे पर खेला गया पहला टेस्ट जीतकर सभी को चौंका दिया। डरबन में खेले गए इस मैच में श्रीलंका टीम लगभग हार चुकी थी लेकिन कुसल परेरा की 153 रनों की पारी ने मेजबानों के पाले से जीत छीन ली। हालांकि मैच के दौरान श्रीलंकाई टीम की योजना कुछ अलग ही थी।

ईएसपीएनक्रिकइंफो से बात करते हुए श्रीलंकाई बल्लेबाज दिमुथ करुणारत्ने ने कहा कि उनका लक्ष्य बराबर मुकाबला करने का था, वो जीत या हार के बारे में नहीं सोच रहे थे। करुणारत्ने ने कहा, “मैंने मैच की शुरुआत में कहा था कि हमें हर सेशन, हर घंटे का खेल पूरा करना है। हम जीत या हार को लेकर इतने परेशान नहीं थे लेकिन हम मुकाबला करना चाहते थे।”

ये भी पढ़ें: द. अफ्रीका पर रोमांचक जीत दिलाने वाले परेरा श्रीलंका में बने ‘सुपरस्‍टार’

करुणारत्ने ने आगे कहा, “ऑस्ट्रेलिया में हमें मुकाबला करने का मौका ही नहीं मिला। हमने प्रतिद्वंदिता नहीं दिखाई। यहां, हमारा पहला दिन अच्छा रहा और फिर दूसरे दिन के पहले सेशन में हमने संघर्ष किया। दक्षिण अफ्रीका में मैच जीतना आसान नहीं है। हम एक युवा टीम है और ज्यादा अनुभव नहीं है। हम में से कुछ ही पहले यहां आए हैं। लेकिन हमने लगातार वापसी की और खेल में बने रहे।”

श्रीलंका की जीत के नायक कुसल परेरा के बारे में करुणारत्ने ने कहा, “आखिरी दिन कुसल परेरा और धनंजया के बीच अच्छी साझेदारी बनाई, इसलिए हमे भरोसा था। गेंदबाजों ने भी कुसल का अच्छा साथ दिया। हमें भरोसा करना ही था कि कुसल ये कर सकता था लेकिन दूसरी बात ये थी कि उसे दूसरे छोर पर साथ चाहिए था। जब कसुन रजिता आउट हुए तो हमें पता था कि कुसल को शॉट्स खेलने की जरूरत है।”

करुणारत्ने ने आगे कहा, “हमें कभी नहीं लगा कि मैच हमारे हाथ में है लेकिन ड्रेंसिंग रूम में सबको विश्वास था कि कुसल ये कर सकता है और हम उस्ताहित थे जब विश्वा (फर्नांडो) बल्लेबाजी कर रहा था। हमें लगता है कि विश्वा ने अच्छा काम किया, काफी दबाव था।”

ये भी पढ़ें: डरबन टेस्‍ट के बाद कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस बोले- टेस्ट क्रिकेट ऐसी ही होनी चाहिए

श्रीलंका दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 से आगे आ चुकी और 21 फरवरी में पोर्ट एलिजाबेथ में सीरीज का दूसरा मैच खेला जाना है। करुणारत्ने ने कहा, “अहम बात ये है कि हमें आराम की जरूरत है। लड़कों को अपने प्रदर्शन का आनंद लेने की जरूरत है। जब ऐसा होता है, जब आप क्रीज पर जाते हैं, तो आप अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। मेरे लिए, जब मैं जीवन का आनंद लेता हूं, तो बल्लेबाजी करते समय मेरे पास जाने पर एक साफ दिमाग होता है। यही मैंने अपने साथियों को भी बताया। अगला मैच 21 को है, हम अभ्यास करेंगे और कड़ी मेहनत करेंगे, लेकिन साथ ही हम इस जीत का आनंद लेंगे और जश्न मनाएंगे।”