Dinesh Chandimal denies charge of attempting ball-tampering; Will face hearing at the end of 2nd Test
Dinesh Chandimal ©IANS

बॉल टैंपरिंग मामले में फंसे श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांदीमल ने आईसीसी के लगाए आरोपों को गलत कहा है और अपने आप को बेकसूर बताया है। चांदीमल पर आईसीसी कोड ऑफ कंडक्ट के आर्टिकल 2.2.9 को तोड़ने का आरोप है। वेस्टइंडीज और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के खत्म होने के बाद आईसीसी मैच रेफरी के एलिट पैनल के जवागल श्रीनाथ इस मामले की सुनवाई करेंगे।

'बॉल टैंपरिंग' में फंसे 5 कप्तान, किसी पर लगा जुर्माना तो किसी पर बैन
'बॉल टैंपरिंग' में फंसे 5 कप्तान, किसी पर लगा जुर्माना तो किसी पर बैन

आईसीसी एलीट पैनल के ऑन फील्ड अंपायर अलीम दार, इयान गाउल्ड और तीसरे अंपायर रिचर्ड कैटलब्रॉ ने चांदीमल पर शनिवार को मैच के दूसरे दिन गेंद की स्थिति बदलने का आरोप लगाया। श्रीलंकाई कप्तान ने आईसीसी के टेस्ट, वनडे और टी20 खेलों को उपनियम 41.3 को तोड़ा है। अधिकारियों ने शुक्रवार के खेल के आखिरी सेशन की टेलीविजन फुटेज देखने के बाद ये आरोप पुख्ता किए। जिसमें चांदीमल जेब से मिठाई निकालकर गेंद पर सलाइवा लगाते हुए देखे। सुनवाई में इस वीडियो को सबूत के तौर पर रखा जाएगा। इस दौरान मैच अधिकारियों के साथ साथ श्रीलंकन टीम मैनेजमेंट भी मौजूद रहेगा।

लेवल 2 के अपराधों में आईसीसी किसी खिलाड़ी पर मैच फीस का 50 या 100 प्रतिशत जुर्माना लगा सकता है और उसे दो सस्पेशंन प्वाइंट्स और तीन या चार डीमेरिट प्वाइंट दे सकते हैं।