Don’t want to see year ending without ipl, says Sourav ganguly

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा कि वह इस साल आईपीएल के 13वें सीजन का आयोजन कराना चाहते हैं और उनकी प्राथमिकता अपने देश में ही आईपीएल कराने की है।

आईपीएल की शुरुआत पहले 29 मार्च से होनी थी लेकिन कोरोनावायरस के कारण इसे अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया गया है।

गांगुली (Sourav Ganguly) ने इंडिया टुडे से शो पर कहा, “हम आईपीएल कराना चाहते हैं, जैसा मैंने कहा कि क्रिकेट की वापसी की जरूरत है। हमारे लिए यह ऑफ सीजन है जिसने हमारी मदद की। हमने मार्च में अपना घरेलू सत्र खत्म कर दिया था। इसके बाद हमें आईपीएल को स्थगित करना पड़ा, जो हमारे घरेलू सीजन का अहम हिस्सा है।”

उन्होंने कहा, “हम चाहते हैं कि आईपीएल हो क्योंकि जीवन को सामान्य स्तर पर और क्रिकेट को भी सामान्य स्तर पर लाने की जरूरत है, लेकिन हमारे पास टी-20 विश्व कप को लेकर आईसीसी से कोई जवाब नहीं आया है।”

ऐसी खबरें हैं कि आईपीएल इस साल बाहर जा सकता है क्योंकि देश में वायरस का संक्रमण कम नहीं हो रहा है और दिन प्रतिदिन स्थिति बिगड़ती जा रही है। गांगुली ने हालांकि कहा है कि उनकी प्राथमिकता आईपीएल को देश में ही कराने की है।

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा, “हम मीडिया के जरिए कई तरह की चीजें सुनते रहते हैं लेकिन अभी तक आधिकारिक तौर पर बोर्ड के सदस्यों को इस बारे में नहीं बताया गया है। हम हालांकि इसे भारत में ही कराना चाहते हैं। यह हमारी प्राथमिकता है। हमें जो भी समय मिलेगा, अगर हमें 35-40 दिन भी मिलते हैं तो हम इसे कराएंगे।”

उन्होंने कहा, “मुंबई, दिल्ली, कोलाकाता, चेन्नई.. यह आईपीएल की बड़ी टीमें हैं और इस समय मैं नहीं समझता कि आप अपने दिल पर हाथ रखकर यह नहीं कह सकते कि इन जगहों पर क्रिकेट होगा। हम अहमदाबाद में बने नए स्टेडियम में जाने को लेकर उत्सुक हैं, लेकिन मैं नहीं समझता कि हम वहां जा पाएंगे या नहीं। इस समय यह कहना आसान नहीं है कि हम भारत में इसकी मेजबानी कर सकते हैं।”

गांगुली ने हालांकि कहा कि भारत के बाहर जाना काफी खर्चीला हो सकता है। “क्या यह भारत में होगा? अगर नहीं तो हम बाहर जाने के बारे में सोचेंगे लेकिन कहां? क्योंकि मौजूदा कन्वर्जन रेट के तहत बाहर जाना बोर्ड और फ्रेंचाइजियों के लिए काफी ख्रर्चीला हो जाएगा।”

उन्होंने कहा, “इसलिए हम चीजों पर नजर रख रहे हैं और हम इसकी मेजबानी करने को लेकर उतारू हूं। हमें उम्मीद है, हम साल 2020 बिना आईपीएल के नहीं चाहते।”