बेन स्टोक्स © Getty Images
बेन स्टोक्स © Getty Images

एशेज सीरीज में अब बस कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं। इंग्लैंड टीम ऑस्ट्रेलिया में अभ्सास मैच खेल रही है लेकिन टीम का सबसे बड़ा मैच विनर बेन स्टोक्स अभी भी इंग्लैंड में कानूनी मामलों में फंसा है। वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान ब्रिस्टल में स्टोक्स पर मारपीट का आरोप लगा था और जिसके कारण उन्हें एशेज सीरीज के लिए इंग्लैंड के साथ ऑस्ट्रेलिया नहीं भेजा गया। अब इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड के सीईओ टॉम हैरिसन ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि वो स्टोक्स को टीम में चाहते हैं।

हैरिसन ने कहा, ‘इसमें कोई दोराय नहीं है कि ब्रिस्टल में जो कुछ भी हुआ वो गलत था। आप अपने खेल को इस तरह के मामले में फंसते नहीं देखना चाहोगे। फिलहाल हम इंतजार कर रहे हैं। पुलिस और अनुशासनात्मक कार्रवाई हो रही है और हमें उम्मीद है कि दोनों सही समय पर हो जाएं ताकि हम स्टोक्स पर कोई भी फैसला ले सकें।’ ईएसपीएन क्रिकइंफो की मानें तो अगर स्टोक्स पुलिस कार्रवाई से बच जाते हैं तो भी उनके खिलाफ बोर्ड कार्रवाई करेगा और उनपर 2 मैच का प्रतिबंध लग सकता है।

टूटे अंगूठे से कराई बॉलिंग और किया अपना बेस्ट प्रदर्शन
टूटे अंगूठे से कराई बॉलिंग और किया अपना बेस्ट प्रदर्शन

अगर स्टोक्स पर 2 मैच का प्रतिबंध लगता है तो वो पहले और दूसरे टेस्ट में नहीं खेल सकेंगे और सीधा तीसरे टेस्ट में खेलेंगे। इसके अलावा इंग्लैंड क्रिकेट के डायरेक्टर एंड्रयू स्ट्रॉस ने भी कहा कि उन्हें मामले के खत्म होने का इंतजार है। स्ट्रॉस ने इस बारे में कहा, “इस मामले से निपटने के लिए उसे दो प्रक्रियाओं से गुजरना होगा, पहला ईसीबी की आंतरिक जांच और फिर पुलिस की कार्रवाई। जब तक हमें पुलिस से ज्यादा जानकारी नहीं मिलती हमारे लिए उसके टीम से जुड़ने का एक ठीक समय बताना मुश्किल है। हम पूरा मामला साफ होने देना चाहते हैं।”