Eng vs Pak: Pakistan captain Azhar Ali proud despite England series defeat
अजहर अली (ICC)

पाकिस्तान कप्तान अजहर अली का कहना है इंग्लैंड के खिलाफ मिली हार के बावजूद टेस्ट सीरीज में उनकी टीम के लिए कई सकारात्मक चीजें हुई हैं। तीन मैचों की सीरीज के पहले मैच में इंग्लैंड के जीत दर्ज करने का बाद बाकी दोनों मैच बारिश के चलते ड्रॉ हुए।

इसी के साथ इंग्लैंड टीम ने पाकिस्तान को दस साल बाद पहली टेस्ट सीरीज हराई। हालांकि सीरीज के दौरान पाकिस्तान की ओर से कई खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। सलामी बल्लेबाज शान मसूद ने मैनचेस्टर में 156 रनों की बेहतरीन पारी खेली। वहीं युवा तेज गेंदबाजों शाहीन आफरीदी और नसीम शाह ने मोहम्मद अब्बास के साथ मिलकर प्रभावशाली गेंदबाजी की।

पाकिस्तान की ओर से मैन ऑफ सीरीज विकेटकीपर बल्लेबाद मोहम्मद रिजवान रहे, जिन्होंने 40 के औसत से कुल 336 रन बनाए, जिसमे दो अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं।

सीरीज खत्म होने पर पाक कप्तान ने कहा, “ये काफी निराशाजनक है लेकिन इंग्लैंड को शुभकामनाएं। हमारी टीम के लिए कई सकारात्मक चीजें थी। हमने पूरी सीरीज में प्रतिद्वंद्वी क्रिकेट खेली। सुधार के लिए जगह है लेकिन एक टीम के तौर पर मुझे हमारी लड़ाई पर गर्व है।”

वहीं खराब फॉर्म की वजह से पूरी सीरीज के दौरान आलोचना झेल रहे कप्तान अजहर ने आखिरी टेस्ट में 141 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेलकर पाक टीम की पारी को लड़खड़ाने से बचाया। तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 75 रन पर पांच विकेट गिरने के बाद कप्तान ने रिजवान के साथ मिलकर शतकीय साझेदारी बनाई थी।

इस पारी के दौरान अजहर पूर्व दिग्गजों यूनिस खान, जावेद मिंयादाद, इंजमाम-उल-हक और मोहम्मद यूसुफ के बाद पाकिस्तान के लिए 6,000 टेस्ट रन बनाने वाले पांचवें बल्लेबाज बने।

बीबीसी से बातचीत में अजहर ने कहा, “पहले दो टेस्ट मेरे लिए मुश्किल थे। मैं काफी दबाव में था। मैंने चीजों को सामान्य रखने की कोशिश की और ये काम कर गया। मैं अपने फ्रंट फुट की वजह से फंस रहा था, बहुत जल्दी खेलने निकल रहा था, मैंने कोच के साथ मिलकर इस पर काम किया।”

कोविड-19 की वजह से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर लगे ब्रेक के बाद खेली अपनी पहली सीरीज को लेकर अजहर ने कहा, “मौजूदा हालातों में ये बेहद शानदार सीरीज रही। आयोजकों को मेरा सलाम, जिन्होंने ये सब इतने कम समय में किया। कम से कम हमें क्रिकेट खेलने का मौका मिला और लोगों को टीवी परल देखने का।”

उन्होंने कहा, “दोनों ही टीमों ने अच्छी भावना के साथ क्रिकेट खेला, जो कि अहम है। दोनों टीमें जीत के लिए लड़ रही थी लेकिन एक-दूसरे का सम्मान करते हुए। हमने इसका काफी आनंद लिया।”

मंगलवार को तीसरे टेस्ट के आखिरी गेंद जेम्स एंडरसन की गेंद पर आउट होकर अली इस दिग्गज गेंदबाज के टेस्ट करियर का 600वां विकेट बने। इस पर उन्होंने कहा, “कम से कम अब मुझे टीवी पर ज्यादा समय मिलेगा क्योंकि लोग वो विकेट बार-बार दिखाएंगे।”

एंडरसन के बारे में अजहर ने कहा, “मैं उसे एक मुश्किल गेंदबाज मानता हूं, खासकर कि इंग्लैंड में। वो आपको कुछ (मदद) नहीं देता, आपको अपना सर्वश्रेष्ठ खेल खेलना होता है। वो अब भी अच्छी गति, सीम और स्विंग से गेंदबाजी कर रहा है, उसे शुमकामनाएं।”