England assistant coach Paul Farbrace says Happy that Ravindra Jadeja only played in last Test
Ravindra Jadeja Oval

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी मुकाबले में ऑलराउंडर रविंद्र जड़ेजा की वापसी हुई। टीम में जगह बनाने वाले जडेजा ने पहली पारी में चार विकेट चटकाए तो बल्लेबाजी करते हुए शानदार 86 रन की पारी खेली।

जडेजा की पारी की बदौलत ही भारतीय टीम इंग्लैंड के बड़े बढ़त को कम करने में कामयाब रही। जड़ेजा की बल्लेबाजी की हर तरफ तारीफ हो रही है। इंग्लैंड के सहायक कोच पॉल फारब्रेस तो इस बात से खुश हैं कि उनको आखिरी टेस्ट से पहले मौका नहीं दिया गया।

इंग्लैंड के सहायक कोच पॉल फारब्रेस ने कहा कि भारत का रविंद्र जडेजा बेहतरीन क्रिकेटर है और उन्हें खुशी है कि वह सिर्फ पांचवां और आखिरी टेस्ट खेला।

जडेजा ने आठवें नंबर पर उतरकर नौवां अर्धशतक जमाते हुए भारत को पहली पारी में छह विकेट पर 160 रन से 292 रन तक पहुंचाया। इस दौरान उन्होंने हनुमा विहारी के साथ 77 रन की अहम साझेदारी निभाई जबकि जसप्रीत बुमराह के साथ मिलकर 32 रन जोड़ टीम को 292 रन तक पहुंचाया।

फारब्रेस ने कहा ,‘‘ उसकी साझेदारी बनने से पहले उसे एक जीवनदान मिला। उसने इसका पूरा फायदा उठाते हुए शानदार पारी खेली। वह काफी प्रतिभाशाली और खतरनाक क्रिकेटर है। हमें खुश होना चाहिए कि वह आखिरी ही मैच में खेला।’’

कोच ने कहा कि क्रिकेटप्रेमियों और इंग्लैंड के क्रिकेट समुदाय को उम्मीद होगी कि एलिस्टर कुक अपनी आखिरी टेस्ट पारी में शतक जमाए। उन्होंने कहा, ‘‘अगर वह शतक जमा पाता है तो यह शानदार होगा। वह दर्शकों से मिल रहे प्यार का लुत्फ ले रहा है और लंबी पारी खेलना चाहेगा।’’